MS DHONI AND MOHMMAD SHAMI

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को एक उम्दा कप्तान के तौर पर जाना जाता है। जोकि विकेट के पीछे खड़े होकर बल्लेबाज, गेंदबाज के साथ आगे की रणनीति पर नजर बनाए रखते हैं। गलती किसी की भी हो धोनी जल्दी इस गलती को जाया नहीं जाने देते हैं। ऐसा ही एक किस्सा महेंद्र सिंह धोनी के विषय में तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने सुनाया है। इस किस्से में मोहम्मद शमी ने बताया कि किस तरह से धोनी ने उनकी गलती पकड़कर उन्हें फटकार लगाई थी।

जब मोहम्मद शमी ने DHONI को भटकाने की कोशिश की

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान MS DHONI को क्रिकेट जगत का चाचा चौधरी भी कहा जाता है। 2014 के न्यूज़ीलैंड दौरे में महेंद्र सिंह धोनी के एक किस्से को इंस्टाग्राम लाइव में मोहम्मद शमी ने शेयर किया है। जिसमे उन्होंने बताया कि जब 2014 के न्यूजीलैंड दौरे पर जब वह ज्यादा बाउंसर डाल रहे थे। तब माही ने उन्हें किस तरह से समझाया था।

मोहम्मद शमी ने वीडियो में कहा

“जब हम 2014 में न्यजीलैंड दौरे पर गए थे तो दूसरे टेस्ट मैच के दौरान जब ब्रैंडन मैकुलम 14 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे, तो उसी समय मेरी गेंद पर उनका कैच विराट कोहली ने छोड़ दिया था। कैच के छूटने से वो निराश तो थे ही बल्कि इसी ओवर में किसी और बल्लेबाज का कैच छूटा जिससे मैं काफी निराश हो गया। मैंने फिर आखिरी गेंद बाउंसर फेंकी जो विकेटकीपर धोनी के सिर के ऊपर से निकल कर चौके के लिए चली गई। इसके बाद माही भाई मेरे पास आए और मुझे फटकार लगाते हुए कहा, कि भले ही तुम्हारी गेंद पर कैच छूटा हो लेकिन तुम्हें ऐसी गेंद नहीं करनी चाहिए. मैंने फिर उन्हें जवाब दिया कि वो दरअसल गेंद हाथ से फिसल कर चली गई थी”।

Also Read : वेलिंग्टन टी20 से पहले भारतीय टीम ने दिखाया ट्रेलर, पंत-श्रेयस ने की छक्कों की बारिश, खौफ में न्यूजीलैंड की टीम, देखें वीडियो

MS DHONI ने कहा बेवकूफ किसी और को बनाना

महेंद्र सिंह धोनी की रणनीति के आगे विश्व के दिग्गज खिलाड़ी भी झुक जाते हैं। इस पर जब उनकी टीम के ही एक तेज गेंदबाज उन्हें भटकाने की कोशिश की तब MS DHONI ने मोहम्मद शमी को फटकार लगाई। मोहम्मद शमी ने बताया कि

” फिर माही भाई ने मुझे थोड़ा सा सख्त लहजे में बोला- देख बेटा, बहुत लोग आए हैं मेरे सामने। बहुत लोग खेल के चले गए, झूठ मत बोल। बेटा तुम्हारे सीनियर हैं… तुम्हारे कप्तान हैं हम… ये बेवकूफ किसी और को बनाना”।

Also Read : 12 महीने से घर बैठा है ये दिग्गज खिलाड़ी, वनडे और टी20 के बाद अब टेस्ट में भी नहीं मिल रहा मौका, संन्यास ही बचा है अंतिम विकल्प