sarfaraz khan father Naushad Khan
सरफराज खान और नौशाद खान

भारतीय टेस्ट टीम (Indian Cricket Team) में अपनी जगह बनाने के लिए पिछले कुछ सालों से लगातार घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन करने वाले सरफराज खान (Sarfaraz Khan) को आखिरकार इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू करने का मौका मिल गया। मुंबई के लिए घरेलू क्रिकेट में खेलने वाले सरफराज खान (Sarfaraz Khan) ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में बल्ले का दम दिखाने के साथ टेस्ट टीम में अपने मौके का भी इंतजार कर रहे थे।

Sarfaraz Khan के डेब्यू पर भावुक हुआ पूरा परिवार

इंग्लैंड (England Cricket Team) के खिलाफ जारी टेस्ट सीरीज का तीसरा मुकाबला सरफराज खान (Sarfaraz Khan) और उनके परिवार के लोगों के लिए यादगार बन गया, जिसमें उन्हें टीम इंडिया (Team India) की तरफ से डेब्यू करने का मौका मिला।

इस बीच सरफराज खान (Sarfaraz Khan) के पिता नौशाद खान (Naushad Khan) भी काफी भावुक दिखे वहीं उन्होंने अपनी भावनाओं को भी आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) के साथ ऑन एयर बातचीत के दौरान व्यक्त भी किया।

सरफराज खान को लेकर पिछले कुछ साले में भारतीय क्रिकेट में लगातार उन्हें टीम में शामिल करने की चर्चा देखने को मिल रही थी। हालांकि इसके बावजूद वह टीम इंडिया का हिस्सा नहीं बन पा रहे थे।

Sarfaraz Khan के पिता नौशाद खान ने शायराने अंदाज में दिया जवाब

इसी को लेकर जब आकाश चोपड़ा के साथ सरफराज खान के पिता नौशाद खान से ऑन एयर सवाल पूछा गया तो उन्होंने इसका जवाब शायराना अंदाज में देते हुए कहा कि

“रात को वक्त चाहिए गुजरने के लिए, लेकिन सूरज मेरी मर्जी से नहीं निकलने वाला।”

बता दें कि जब टेस्ट डेब्यू कैप सरफराज खान को मिली थी तो उसके बाद वह अपने पिता और पत्नी के पास पहुंचे, जिसके बाद दोनों की आंखों में आंसू देखने को मिले थे। सरफराज खान भारत की तरफ से टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने वाले 311वें खिलाड़ी हैं।

पहले दिन का खेल खत्म होने तक 326 रन बना चूका है भारत

राजकोट टेस्ट मैच के पहले दिन भारतीय टीम ने एक समय 33 रन पर अपने 3 विकेट गंवा दिए थे। इसके बाद रोहित शर्मा और रवींद्र जडेजा ने पारी को संभालते हुए चौथे विकेट के लिए 204 रनों की साझेदारी की थी।

रोहित शर्मा के पवेलियन लौटने के बाद सरफराज को बल्लेबाजी करने का मौका मिला और उन्होंने आक्रामक तरीके से खेलते हुए सिर्फ 48 गेंदों में अपना अर्धशतक लगा दिया। हालांकि 62 के निजी स्कोर पर सरफराज खान एक गलतफहमी का शिकार हो गए और रन आउट होकर उन्हें पवेलियन लौटना पड़ा।

ALSO READ: “ये जो कुछ भी हुआ उसमे……” 62 रनों की तूफानी पारी के बाद Sarfaraz Khan ने इन्हें दिया अपनी अर्द्धशतकीय पारी का पूरा श्रेय