India Vs England: 'मैं गेंदबाज पर नहीं गेंदबाजी को देख कर मारता हूँ' शतक लगाने के आबाद ऋषभ पंत का आया बयान

भारतीय क्रिकेट टीम और इंग्लैंड क्रिकेट टीम के बीच चल रहे पांच दिन के टेस्ट मैच में भारतीय टीम के विकेटकीपर खिलाड़ी ऋषभ पंत ने शानदार शतक लगा दिया है। ऋषभ पंत एक मात्र इस विकेटकीपर बल्लेबाज हैं जिन्होंने साउथ अफ्रीका, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में जाकर शतक ठोका है। यही नहीं ऋषभ पंत का इंग्लैंड के खिलाफ ये दूसरा टेस्ट शतक था।

अब तक ऋषभ पंत कुल पांच टेस्ट शतक लगा चुके है। टीम के पांच शुरुआती खिलाड़ियों के 98 रन पर आउट हो जाने के बाद ऋषभ पंत और रविंद्र जडेजा ने ही पारी को संभाला है। मैच के बाद ऋषभ पंत में अपनी पारी के बारे में बात करते हुए काफी बातचीत की। जानिए क्या कहा ऋषभ पंत ने…

गेंदबाज पर नहीं गेंदबाजी पर होता है मेरा फोकस.. Rishabh Pant

ऋषभ पंत

भारतीय क्रिकेट टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने 111 गेंद पर 146 रन बनाए। जिसमें 19 चौके और 4 छक्के लगाए हैं। ये रन ऋषभ पंत ने 132 के स्ट्राइक रेट से बनाए हैं। जिसके बाद ऋषभ पंत ने कहा कि,

“मैं गेंदबाज पर ध्यान केंद्रित नहीं करता, मैं उस पर ध्यान केंद्रित करता हूं जो वह गेंदबाजी कर रहा है। यह पूर्व नियोजित नहीं है कि मुझे इस गेंदबाज के पीछे पड़ना है, अगर मुझे लगता है कि मैं गेंद को हिट कर सकता हूं, तो मैं ऐसा करता हूं। मुझे विपक्ष (इंग्लैंड) पसंद है लेकिन मैं इसके बारे में ज्यादा नहीं सोचता। मैं हर मैच में अपना शत-प्रतिशत देना चाहता हूं। मेरा ध्यान उस क्रिकेट पर है जो मैं खेलता हूं”।

Also Read : Ind Vs Eng: 338 रन बनाने के बाद 32 साल में भारत ने बनाया यह रिकॉर्ड, ऋषभ पंत के शतक के बाद हुआ ये कारनामा

कोच की सलाह पर डिफेंस करना भी सीखे ऋषभ पंत

भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी ऋषभ पंत ने अपनी बातचीत में आगे कहा कि अपने बचपन के कोच तारक सर की सलाह पर वो डिफेंस करना भी सीख रहें हैं। क्रिकेट में हर बॉल स्ट्राइक नहीं की जा सकती है। ऋषभ पंत ने कहा कि,

“बचपन से ही मेरे कोच तारक सर ने मुझसे कहा था कि आप गेंद को हिट कर सकते हैं, लेकिन अपने डिफेंस पर भी काम करें। मैं अपने डिफेंस पर काम करता रहता हूं, टेस्ट क्रिकेट में डिफेंस जरूरी है। हर गेंद को आप हिट नहीं कर सकते, इसलिए मैं फोकस करता रहता हूं और अगर मुझे लगता है कि मुझे डिफेंड करने की जरूरत है, तो मैं डिफेंड करता हूं और अगर मुझे लगता है कि मैं गेंद को हिट कर सकता हूं, तो मैं गेंद को हिट करता हूं। खराब गेंद को दूर रखना भी जरूरी है, अगर गेंदबाज अच्छी गेंदबाजी कर रहा है तो उसे सम्मान देना भी एक अच्छा संकेत है। मैं गेंद की योग्यता के अनुसार खेलने की कोशिश करता हूं”।

इंग्लैंड के खिलाफ बल्लेबाजी करना पसंद है : ऋषभ पंत

वनडे और टी20 के बाद टेस्ट टीम में भी खतरे में है ऋषभ पंत की जगह, रोहित शर्मा तैयार कर रहे हैं विकल्प

ऋषभ पंत ने टेस्ट में कुल पांच शतक और 9 अर्धशतक बनाया हैं। जिसमें दो शतक ऋषभ पंत ने इंग्लैंड के खिलाफ बनाए हैं। ऋषभ पंत का कहना है कि उन्हें इंग्लैंड के खिलाफ बल्लेबाजी करना काफी पसंद है। ऋषभ पंत ने कहा,

” मुझे खासकर इंग्लैंड जैसे हालात में, जहां आप जानते हैं कि गेंदबाज अच्छी गेंदबाजी कर रहा है, तो उसकी लाइन और लेंथ को बिगाड़ना जरूरी हो जाता है। मैं कोशिश करता रहता हूं कि मैं उसी तरह से न खेलूं जिससे गेंदबाज मानसिक रूप से परेशान हो जाए. एक खिलाड़ी के रूप में, मैं अपना 100 प्रतिशत देने की कोशिश करता हूं, मैं अपना प्रतिशत खेलने की कोशिश करता हूं, अगर मुझे लगता है कि मेरे लिए एक अलग शॉट की कोशिश करना या गेंद को हिट करना है, तो मैं इसका समर्थन करता हूं। मैंने उस पर ध्यान केंद्रित किया है और यह मेरी मदद कर रहा है, मुझे लगता है”।

Also Read : इन 2 टीमों को सिर्फ 1 बार मिला विश्व कप खेलने का मौका, दोबारा इस वजह से नहीं बन सकीं ICC टूर्नामेंट का हिस्सा