ऋषभ पंत

DC vs RR: आईपीएल में शुक्रवार को ऋषभ पंत की अगुवाई वाली दिल्ली कैपिटल्स को राजस्थान रॉयल्स के सामने 15 रनों से करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा. मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए इस रोमांचक मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करने उतरी राजस्थान रॉयल्स ने जोस बटलर की शानदार शतकीय पारी के दम पर 20 ओवर में 2 विकेट के नुकसान पर 222 रनों का विशाल लक्ष्य खड़ा किया. जवाब में दिल्ली की टीम 20 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 207 रन बनाने में ही सफल हो सकी.

ऋषभ पंत ने अंपायर को जमकर कोसा

इस मैच में दिल्ली को जीत के लिए आखिरी ओवर में 36 रनों की जरूरत थी और निचले क्रम में बल्लेबाजी करने उतरे रोवमैन पॉवेल ने ओवर की शुरूआती 3 गेंदों पर 3 छक्के जड़ दिए. एक समय लग रहा था कि वो दिल्ली को इस मैच में जीत दिला देंगे, लेकिन अगली गेंद को अंपायर ने नो बॉल के लिए चेक नहीं किया और टीम को हार का सामना करना पड़ा. इस करारी शिकस्त के बाद कप्तान ऋषभ पंत ने कहा कि,

“मेरे हिसाब से राजस्थान ने बढ़िया गेंदबाजी की लेकिन अंत में पॉवेल ने कहीं ना कहीं मैच को हमारे पक्ष में ला दिया था. मुझे लगा था कि नो बॉल हमारे लिए कीमती हो सकती थी लेकिन यह हमारे हाथ में नहीं है. हां, निराश हूं लेकिन इसके बारे में ज्यादा कुछ नहीं कर सकता. हर कोई निराश था क्योंकि यह करीबी मामला था. मुझे लगता है कि तीसरे अंपायर को हस्तक्षेप करना चाहिए था और कहना चाहिए था कि यह नो-बॉल है.”

ALSO READ:IPL 2022 RRvsDC: बटलर की आंधी में निकला दिल्ली का दम, ऋषभ पंत की इस मामूली चूक की वजह से गंवाया रोमांचक मैच

हमारे साथ मैच में गलत हुआ

अंपायर के इस फैसले से कप्तान काफी निराश नज़र आए और उन्होंने कई बार अंपायर को नो बॉल चेक करने के लिए कहा. इसके चलते मैदान पर एक बड़ा विवाद खड़ा हो गया था. कप्तान ने आगे कहा कि,

“जाहिर तौर पर यह सही नहीं था (आमरे को मैदान पर भेजना) लेकिन हमारे साथ जो हुआ वह भी सही नहीं है, यह उस समय के जोश में हुआ. यह दोनों पक्षों की गलती थी और यह निराशाजनक है क्योंकि हमने टूर्नामेंट में कुछ अच्छी अंपायरिंग देखी है. हम और ज़्यादा बढ़िया गेंदबाज़ी कर सकते थे लेकिन यह इस खेल का एक हिस्सा है. मैं अपने खिलाड़ियों से कहूंगा कि ज़्यादा ना सोंचे और अगले मैच की तैयार करें.”

ALSO READ:IPL 2022 RRvsDC Stats: राजस्थान की रोमांचक जीत के साथ मैच में बने कुल 9 बड़े रिकॉर्ड्स, जोस बटलर ने रचा इतिहास