Ravichandran Ashwin

Ravichandran Ashwin: भारतीय टीम (Team India) के दिग्गज स्पिनर आर अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने इंग्लैंड (IND vs ENG) के खिलाफ रोजकोट टेस्ट में बहुत बड़ी कामयाबी हासिल की. वह सबसे तेज 500 टेस्ट विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाज बने. इंटरनेशनल क्रिकेट में वह श्रीलंका (Srilanka Cricket Team) के मुथैया मुरलीधरन के बाद दूसरे गेंदबाज हैं.

इस खास उपलब्धि को हासिल करने के बाद अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने जो बात कही उसने हर किसी को हैरान कर दिया. उन्होंने एक शख्स के बारे में बात की जिनको उनके हर मैच में हार्ट अटैक आता है.

तीसरे टेस्ट के दूसरे दिन Ravichandran Ashwin ने अपने नाम किया 500 विकेट

भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही 5 मैचों की टेस्ट सीरीज का तीसरा मुकाबला आर अश्विन के लिए बेहद यादगार बन गया. वह 500 विकेट लेने वाले दिग्गज गेंदबाजों की लस्ट में शामिल हुए.

इंग्लैंड के खिलाफ पहली पारी में 1 विकेट लेने के साथ ही उन्होंने यह खास उपलब्धि हासिल की. हालांकि दिन का खेल खत्म होने के बाद उन्होंने निजी कारणों से मैच को बीच में छोड़कर घर लौटने का फैसला लिया.

जब भी मै भारत के लिए खेलता हूँ उन्हें हर्ट अटैक आता है: Ravichandran Ashwin

राजकोट टेस्ट के दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने कहा.

“यह जो मेरा सफर है काफी लंबा रहा है. सबसे पहले मैं अपनी इस कामयाबी को पिता को समर्पित करना चाहूंगा. वो एक ऐसे शख्स हैं जिनका साथ मुझे मेरे अच्छे हो बुरे जीवन के हर मोड़ पर मिला. यह कहना गलत नहीं होगा कि जब कभी भी मैं खेलने उतरा तो मुझे खेलता देख हर एक मैच में उनको मानो जैसे हार्ट अटैक सा आया हो. उनकी तबीयत अगर बिगड़ी है तो इसके पीछे मेरे मैच में खेलते देखना भी एक वजह है.”

ALSO READ: IND vs ENG, STATS: मैच के तीसरे दिन बने कुल 13 ऐतिहासिक रिकॉर्ड, यशस्वी जायसवाल ने लगाई रिकॉर्ड की झड़ी, ऐसा करने वाले बने पहले खिलाड़ी