Bismah Maroof

पाकिस्तानी क्रिकेट में कुछ भी ठीक नही चल रहा है. पहले तो पुरुष टीम टी20 विश्व कप में जिम्बाब्वे से हार गई और अब पाकिस्तान के महिला टीम के कप्तान ने पाकिस्तानी क्रिकेट बोर्ड यानी PCB पर बड़ा आरोप लगा दिया है. क्या है यह आरोप, आइए समझते हैं.

बिस्माह मारूफ ने लगाया बड़ा आरोप

पाकिस्तानी महिला टीम के कप्तान बिस्माह मारूफ (Bismah Maroof) ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड पर यह बड़ा आरोप लगाया है. एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने कहा है कि,

‘मुझे लगता है कि महिला क्रिकेटर भी काफी ज्यादा मेहनत करती है, लेकिन इसमें कोई शक नहीं कि पाकिस्तान में महिला क्रिकेट को भारत, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों की बराबरी करने के लिए काफी तरक्की करने की जरूरत है.’

आगे उन्होंने अपने बात को समझाते हुए कहा कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने खिलाड़ियों को कुछ इनाम और अच्छी कोचिंग की सुविधाएं प्रदान की है, लेकिन उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी क्रिकेट बोर्ड ने अपने महिला खिलाड़ियों का वेतन पिछले 8 साल से नही बढ़ाया है.

ALSO READ:3 खिलाड़ी जिनकी टी20 वर्ल्ड कप के बाद हो जाएगी भारतीय टीम से छुट्टी, फिर कभी नहीं मिलेगा टीम इंडिया में जगह

भारत के क्रिकेट बोर्ड ने लिया था ऐतिहासिक फैसला

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआई ने पिछले सप्ताह यह ऐलान किया था कि हम महिला और पुरुष क्रिकेटरों को समान सैलरी देंगे. बताया गया कि यह फैसला लैंगिक समानता लाने के लिए लाया गया है. इसका ऐलान बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने की, उन्होंने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी.

उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल का इस्तेमाल करते हुए एक ट्वीट लिखा कि,

‘मुझे यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है भेदभाव मिटाने की दिशा में बीसीसीआई ने पहला कदम उठाया है. हम बोर्ड से अनुबंधित महिला क्रिकेटर के लिए समान वेतन की पॉलिसी लागू कर रहे हैं. अब महिला और पुरुष दोनों क्रिकेट खिलाड़ियों को एक जैसी मैच फीस मिलेगी. इसके जरिए हम क्रिकेट में लैंगिक समानता के एक नए युग में प्रवेश कर रहे हैं.’

भारत के अलावा न्यूजीलैंड और इंग्लैंड जैसी टीमों ने भी यह ऐतिहासिक फैसला लिया है.

ALSO READ: T20 WC 2022: अगर जिम्बाब्वे ने भारत को हरा दिया तो मै जिम्बाब्वे के किसी व्यक्ति से शादी कर लुंगी: पाकिस्तानी एक्ट्रेस