इस क्रिकेटर का टीम में नहीं हुआ सिलेक्शन तो इस खिलाड़ी ने काट ली अपनी कलाई, हुआ अस्पताल में एडमिट
इस क्रिकेटर का टीम में नहीं हुआ सिलेक्शन तो इस खिलाड़ी ने काट ली अपनी कलाई, हुआ अस्पताल में एडमिट

क्रिकेट को कई देशों में सिर्फ एक खेल ही नही बल्कि उससे कई बढ़कर माना जाता है। यहा तक की एशियाई देशों में क्रिकेट सिर्फ एक खेल नहीं, धर्म बन चुका है। कुछ इसी भावना को लेके एक चौंकाने वाली खबर सामने आई है। 

हार किसी को देश के लिए खेलने का मौका नहीं मिल पाता है। ऐसा ही हुआ, जब पड़ोसी देश पाकिस्तान में एक खिलाड़ी ने सिर्फ इसलिए आत्महत्या करने की कोशिश करी क्योंकि उसका घरेलू टीम में चयन नहीं हुआ था।

काट ली कलाई की नस

एक युवा तेज गेंदबाज, जिसका नाम शोएब है, जिसने टीम में चयन नहीं होने के कारण आत्महत्या की कोशिश की है। हालांकि शोएब को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालात नाजुक बताई जा रही है। शोएब का पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) की अंतर शहर चैंपियनशिप में चयन नही हो पाया था। 

शोएब पाकिस्तान के सिंध प्रांत में हैदराबाद के कासिमाबाद का रहने वाले हैं। शोएब को टीम मौका नहीं मिल पाने पर वह निराश हो गया और काफी मानसिक तनाव में रहने लगा था। जिसके कारण उसने यह कदम उठाया। 

ALSO READ:ऐसे 3 खिलाड़ी जिन्हें दोबारा टीम इंडिया में मौका देने की है जरूरत, गलतियों से सीखकर बन चुके हैं सोना

कमरे में खुद को कर लिया था बंद

जब शोएब के एक घर के सदस्य से बातचीत हुई तो पता चला कि चयन न होने से वह बेहद निराश था और उसने खुद को कमरे में बंद कर लिए। बाद मैं वह बेहोशी की हालत में पाया गया। शोएब के परिवार के सदस्य ने कहा,

“हमें वह अपने कमरे के बाथरूम में मिला और उसकी कलाई कटी हुई थी। वह बेहोश था और हम उसे तुरंत अस्पताल ले गए जहां अब भी उसकी हालत नाजुक बनी हुई है।” 

इससे पहले फरवरी 2018 में एक अंडर-19 क्रिकेटर मोहम्मद जरयाब ने अपने ही घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। वह कराची का रहने वाला था। तब जरयाब को अपने ही शहर की अंडर-19 टीम से ड्रॉप कर दिया गया था। इसी बात से दुखी होकर उसने आत्महत्या कर ली थी। 

ALSO READ:खुद को खेल से भी बड़ा समझते हैं ये 3 भारतीय खिलाड़ी, हमेशा नाक पर ही रहता है गुस्सा