PAK vs NZ

सेमीफाइनल में पाकिस्तान ने न्यूजीलैंड को 7 विकेट से हरा दिया है. अब पाकिस्तान 13 नवंबर को दूसरे सेमीफाइनल के विजेता टीम से फाइनल खेलेगा. टॉस जीतकर न्यूजीलैंड ने पहले बल्लेबाजी की और स्कोरबोर्ड पर 152 रनों का स्कोर लगा दिया. जवाब में पाकिस्तान ने यह लक्ष्य 3 विकेट खोकर ही प्राप्त कर लिया और यह मैच 8 विकेट से जीत लिया. मोहम्मद रिज़वान और बाबर आज़म ने शानदार अर्धशतक जड़े.

न्यूजीलैंड ने दिया था 153 रनों का लक्ष्य

टॉस जीतकर न्यूजीलैंड ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. न्यूजीलैंड की शुरुआत बेहद ख़राब रही और सलामी बल्लेबाज फिन एलन सिर्फ 4 रन बनाकर आउट हो गए. इसके बाद डेविड कॉनवे भी पावरप्ले के अंतिम गेंद पर रनआउट होकर पवेलियन लौट गए. एक वक्त न्यूजीलैंड का स्कोर 48 रन पर तीन विकेट था.

इसके बाद कप्तान केन विलियम्सन और डेरिल मिचेल के बीच अच्छी साझेदारी हुई. केन विलियम्सन ने 42 गेंदो में एक चौके और एक छक्के की मदद से 46 रनों की पारी खेली तो दूसरी तरफ मिचेल ने शानदार अर्धशतक लगाया. उन्होंने 35 गेंदो में 3 चौके और एक छक्के की मदद से 53 रनों की पारी खेली.

पाकिस्तान के तरफ से सबसे सफल गेंदबाज एक फिर से शाहीन शाह अफरीदी रहे. शाहीन शाह ने 4 ओवर में 24 रन देकर 2 विकेट अपने नाम किया. वहीं मोहम्मद नवाज को भी एक सफलता मिली.

पाकिस्तान 7 विकेट से जीता

153 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी पाकिस्तान की शुरुआत शानदार रही. टूर्नामेंट में पहली बार पाकिस्तान की सलामी जोड़ी ने शतकीय साझेदारी की. कप्तान बाबर आज़म ने 42 गेंदो में 7 चौके की मदद से 53 रनों की पारी खेली. वहीं विकेटकीपर बल्लेबाज मोहम्मद रिज़वान ने भी अर्धशतक जड़ा. रिज़वान ने 43 गेंदो में 5 चौको की मदद से 57 रनों की पारी खेली.

अंत मे मोहम्मद हारिस ने भी 30 रनों की उपयोगी पारी खेली. इन पारियों की मदद से पाकिस्तान ने न्यूजीलैंड को 7 विकेट से हराकर फाइनल में जगह बना ली है.

ALSO READ:सूर्यकुमार यादव की तूफानी बल्लेबाजी भारतीय टीम के लिए ‘खतरा’, लालच से बचें SURYA

केन विलियमन की ये गलती बनी हार की वजह

न्यूजीलैंड के हार की सबसे बड़ी वजह केन विलियमसन की एक छोटी सी गलती रही. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला कप्तान विलियमसन के बिलकुल गलत साबित हुआ. पाकिस्तान टीम लक्ष्य का पीछा करना बखूबी जानती है, जबकि पहले बल्लेबाजी के समय वो दबाव में बिखर जाते हैं.

अगर न्यूज़ीलैंड ने टॉस जीतने के बाद पहले गेंदबाजी का फैसला किया होता तो शायद न्यूजीलैंड ये मैच जीत जाता. कप्तान केन विलियमसन के अलावा न्यूजीलैंड की खराब फील्डिंग भी इस हार का सबसे बड़ा कारण रही है. न्यूज़ीलैंड के खिलाड़ियों ने कई आसान कैच टपकाए और रन आउट का मौका छोड़ा.

ALSO READ: जॉस बटलर का कबूलनामा विराट और रोहित नहीं इस भारतीय बल्लेबाज से भयभीत हैं अंग्रेज