Legends League क्रिकेट में चाहकर भी हिस्सा नहीं ले सकते हैं महेंद्र सिंह धोनी, जानिए वजह
Legends League क्रिकेट में चाहकर भी हिस्सा नहीं ले सकते हैं महेंद्र सिंह धोनी, जानिए वजह

भारतीय क्रिकेट टीम ( Indian Cricket Team) के आईसीसी ट्रॉफी जीतने वाले कैप्टन सबसे सफल कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) ने टीम इंडिया से संन्यास के लिया है। धोनी अब मैदान पर इंडियन प्रीमियर लीग के दौरान ही अपनी टीम चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलते नजर आते हैं।

महेंद्र सिंह धोनी की प्रसिद्धि क्रिकेट में मामले में किसी सुपरस्टार से कम नही है। उनकी मौजूदगी से किसी टीम टूर्नामेंट की लोकप्रियता दोगुनी हो जाती है। लेकिन फिर भी महेंद्र सिंह धोनी आईपीएल के अलावा किसी अन्य लीजेंड लीग का हिस्सा नहीं हो सकते हैं। जानिए क्या है वजह…

BCCI के नियम के कारण नहीं खेल सकते है धोनी लीजेंड लीग

क्रिकेट के मैदान पर महेंद्र सिंह धोनी की लोकप्रियता के बाद इंटरनेशनल क्रिकेट से सन्यास के बाद भी किसी लीजेंड लीग का हिस्सा नही हो सकते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि बीसीसीआई का एक नियम इसके आड़े आयेगा। बीसीसीआई के नियम के अनुसार अगर किसी खिलाड़ी को जोकि बीसीसीआई की छत्रछाया से बाहर है। उसे किसी और टीम के लिए खेलना है या फिर कोच की भी भूमिका निभानी है, तब उसे नियम के अनुसार क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास लेना होगा।

Also Read : IND vs AUS: “उसे क्यों नजरअंदाज कर रहे हो” सुनील गावस्कर ने राहुल द्रविड़ और रोहित शर्मा के टीम चयन पर उठाया सवाल

इसके विपरीत महेंद्र सिंह धोनी अभी आईपीएल खेलते हैं। इसलिए वो लीजेंड लीग का हिस्सा नहीं बन सकते हैं। ऐसा करने के लिए पूर्व कप्तान को आईपीएल से भी अपना नाता खत्म करना होगा, जिसके बाद महेंद्र सिंह धोनी सभी प्रारूप में क्रिकेट नही खेलेंगे। तब वो लीजेंड लीग खेल सकते हैं।

आईपीएल का हिस्सा होंगे MSD

भारतीय क्रिकेट के प्रसिद्ध सितारों में से एक महेंद्र सिंह धोनी अभी आईपीएल खेलेंगे, ऐसा तय है। महेंद्र सिंह धोनी ने खुद ही इस बात की पुष्टि की थी कि वो आईपीएल 2023 में टीम का हिस्सा होंगे।

चेन्नई सुपरकिंग्स के ही उनके साथी सुरेश रैना और रॉबिन उथप्पा ने ससंन्यास ले लिया है, जिसके बाद सुरेश रैना लीजेंड लीग खेल रहें हैं, तो रॉबिन उथप्पा जल्द ही इजाजत लेकर लीग का हिस्सा बन सकते हैं। साथ ही खिलाड़ी बिग बैश लीग, द हंड्रेड , विटैलिटी टी20 ब्लास्ट या अन्य टूर्नामेंट का हिस्सा बन सकते हैं।

Also Read : IND vs AUS: कभी मैच विनर था ये खिलाड़ी अब भारतीय टीम पर बना बोझ, टी20 विश्व कप के बाद संन्यास ही है आखिरी रास्ता