जीतना क्रिकेट नहीं खेलते उससे ज्यादा चोटिल रहते हैं ये 3 खिलाड़ी, आधे समय तो टीम से रहते हैं बाहर
जीतना क्रिकेट नहीं खेलते उससे ज्यादा चोटिल रहते हैं ये 3 खिलाड़ी, आधे समय तो टीम से रहते हैं बाहर

जिस तरह से बिजनेस में नुकसान और फायदा होना लगा रहता है, ठीक उसी प्रकार से Cricket के खेल में भी एक खिलाड़ी का चोटिल होना उस खेल का ही हिस्सा माना जाता है। अन्य खेलों के मुकाबले क्रिकेट के खेल में चोटिल होने के चांसेस कम होते हैं। अब पहले की अपेक्षा टी20 क्रिकेट अधिक खेला जा रहा है, जिसके कारण खिलाड़ियों के कार्यभार में भी बढ़ोतरी हुई है।

कई बार तो वर्क लोड का भार अधिक होने का असर भी खिलाड़ियों की फिटनेस पर पड़ता है। इसके अतिरिक्त कुछ ऐसे भी खिलाड़ी हैं जो कुछ अहम मैचों में चोट के कारण खेलने में नाकाम रहते हैं। हाल ही इस परीक्षा की कठिन घड़ी से कुछ प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को होकर गुजारना पड़ा है।

आज के इस आर्टिकल में हम आपको ऐसे ही तीन इंटरनेशनल खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो हाल ही में चोटिल होने के कारण कई बड़े मैच खेलने में असमर्थ रहेंगे।

जोफ्रा आर्चर

इस पीढ़ी के सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाजों में शामिल जोफ्रा आर्चर भी लगातार मैच खेलने से चूकते नजर आ रहे हैं। 2019 वर्ल्ड कप के बाद से उनके साथ अधिकतर ऐसा ही लगा हुआ है। हालांकि जोफ्रा आर्चर द्वारा मार्च 2021 में एक इंटरनेशनल मैच अवश्य खेला गया था, लेकिन उसके बाद से वह चोट का शिकार होने के कारण कई सर्जरी से गुजरते रहे।

कोहनी के अतिरिक्त इस तेज गेंदबाज की पीठ में भी कुछ दिक्कत है। अगर इस बाएं हाथ के तेज गेंदबाज के इंटरनेशनल करियर की बात की जाए, तो उनके द्वारा अब तक 42 मैच खेले गए हैं और 46 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह भी दिखाई जा चुकी है।

के-एल राहुल

भारत के ओपनर बल्लेबाज केएल राहुल का नाम भी उन इंटरनेशनल खिलाड़ियों की लिस्ट में शामिल है, जो हाल ही में चोट के चलते कई मैच खेलने से रह गए। टीम इंडिया के साथ अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत में ही राहुल हैमस्ट्रिंग और कंधे की चोट का शिकार हो गए। जिसके चलते वह कई मैच खेलने में नाकाम साबित हुए। हालांकि कुछ समय बाद राहुल ने जोरदार वापसी के साथ एक लंबे समय तक अच्छा प्रदर्शन किया।

अब एक बार फिर से उनके करियर में सबसे बड़ी बाधा चोट के रूप में खड़ी हो गई है, जिसके चलते वह दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू टी20 इंटरनेशनल सीरीज से बाहर हो चुके हैं।

राहुल सर्जरी के बाद सीरीज में अपनी वापसी करना चाहते थे, लेकिन कोरोना संक्रमण का शिकार होने के कारण फिर से वह चूक गए। राहुल चोट और आराम के चलते साल 2022 में 5 से अधिक टूर्नामेंट नहीं खेल सके हैं।

राहुल के टी20 इंटरनेशनल करियर की बात की जाए, तो उनके द्वारा 140 मैच खेले गए और वह 6012 रन अपने नाम करने में कामयाब रहे। इस दौरान उनका बल्ला 14 शतक और 39 अर्धशतक बनाने में कामयाब रहा।

ALSO READ: “मुझे टी20 विश्व कप में जगह क्यों नहीं मिला” युजवेंद्र चहल ने कहा रोहित और राहुल द्रविड़ ने मुझसे कही थी ये बात

मिचेल मार्श

टखने की समस्या ने ऑस्ट्रेलिया के इस ऑलराउंडर खिलाड़ी को काफी परेशान कर रख दिया है। जिसके कारण टीम के लिए वह कई मैच खेलने में नाकामयाब साबित हुए। हालांकि अब मार्श सर्जरी के बाद अच्छे फॉर्म में नजर आ रहे हैं। पहले की अपेक्षा वह कम गेंदबाजी कर रहे हैं, और छोटे प्रारूपों की तरफ ध्यान भी दे रहे हैं।

पिछले साल मार्श ने ऑस्ट्रेलिया को टी20 वर्ल्ड कप जिताने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। उनके द्वारा आईपीएल 2022 में दिल्ली के लिए भी बेहतर खेल दिखाया गया था।

मार्श के इंटरनेशनल करियर की बात की जाए तो उनके द्वारा 107 मैच खेले गए, जिसमें वह 3,888 रन बनाने में वह कामयाब रहे। उनका बल्ला भी इस दौरान 3 शतक और 21 अर्धशतक लगाने में कामयाब रहा। अपने करियर के दौरान उनके द्वारा 109 बल्लेबाजों को आउट भी किया गया।

Read Also:-IND vs ZIM: ‘क्या अपनी जर्सी मुझे दे सकते हो शिखर धवन’ फैन के इस सवाल पर गब्बर ने दिया दिल जीतने वाला रिएक्शन, देखें वीडियो