BUMRAH AND SHAMI
बालाजी ने बताया उस युवा खिलाड़ी का नाम जो ले सकता है मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह की जगह

पूर्व भारतीय तेज़ गेंदबाज़ लक्ष्मीपति बालाजी(LAKSHMIPATHY BALAJI) ने एशिया कप(ASIA CUP 2022) से पहले बड़ा बयान दिया है. बता दें इंडिया एशिया कप का पहला मैच 28 अगस्त, रविवार को पाकिस्तान के खिलाफ खेलेगी. इस मैच को लेकर लोगों के अदंर काफी उत्साह दिखाई दे रहा है. इस मैच एशिया कप भारतीय तेज़ गेंदाबाज़ी की इकाई कुछ कमज़ोर दिख रही है.

टीम में जसप्रीत बुमराह(JASPRIT BUMRAH) और हर्षल पटेल(HARSAL PATEL) के न होने से टीम काफी तेज़बाज़ी में कुछ असहज दिखाई दे रही है. लक्ष्मपित बालाजी(LAKSHMIPATHY BALAJI) ने इस मैच से पहले इस गेंदबाज़ी का नाम जसप्रीत बुमराह और महोम्मद शमी(MOHAMMED SAHMI) का रिप्लेसमेंट बताया.

इस गेंदबाज़ा का लिया नाम

Deepak-Chahar

बालाजी(LAKSHMIPATHY BALAJI) ने दोनों तेज़ गेंदाबज़ों के रिप्लेसमें के तौर पर दीपक चाहर(DEEPAK CHAHAR) का नाम सुझाया. उन्होंने बताया की दीपक को एशिया कप की टीम में उनकी नई गेंद से विकेट लेने की योग्याता को देखते हुए ज़रूर शामिल करना चहिए. बालाजी ने बात करते हुए कहा,

“अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी के बाद वह जिम्बाब्वे में जो कर रहे थे, वो ऐसा था जैसे कि उन्होंने रिज्यूमे का बटन दबाया और वो अपनी विकेट लेने की योग्यताओं में आ गए हों. चाहर ने अपनी काम करने की नीति से साथ शानदार काम किय है. उसके पास कई तरह की विविधताएं हैं. गेंद को स्विंग और सीम कराने की क्षमता और नई गेंद के साथ विकेट लेने क्षमता उसे बाकियों से अलग बनाती है.”

उन्होंने आगे बात करते हुए कहा,

“जब आपके पास ऐसी स्किल्स हों, जैसी उसके पास है, फिर ये देखने में काफी सुखदायक है. आज के क्रिकेट में नई गेंद से स्विंग और सीम काफी कम देखा जाता है.

ALSO READ: Asia Cup 2022 का पूरा शेड्यूल आया समाने, भारत-पाकिस्तान के साथ इस टीम ने बनाई ग्रुप ए में जगह

उसके पहली पंसद की तरह देखो

Deepak-Chahar

बालाजी ने आगे बात करते हुए कहा,

“यूएई में, जहां विरोधी बल्लेबाजी में शुरुआती पैठ बनाने के लिए नई गेंद के कौशल की आवश्यकता होती है. आप नई गेंद से विकेट लेना चाहते हैं. अगर चाहर आपको शुरुआती विकेट निकालकर देते हैं, तो आपको उन्हें एक पहली पंसद की तरह देखना चाहिए. हमारे पास कई गेंदबाज़ और बहुत प्रतिसपर्धा है. आपको नई गेंद के साथ विकेट लेने वाला गेंदबाज़ चाहिए. अगर बुमराह और शमी उपलब्ध नहीं हैं, तो चाहर एक ऐसे गेंदबाज़ हैं, जो आपको सुविधा देंगे.”

ALSO READ: न्यूज़ीलैंड के खिलाफ भारतीय टीम हुई घोषित, तिलक वर्मा से लेकर उमरान मलिक को मिला मौका, जानिए कौन बना कप्तान