मैच से पहले केएल राहुल ने दिया बड़ा बयान, बोले- कोई भी परफेक्ट नहीं होता है, मैं तो...
मैच से पहले केएल राहुल ने दिया बड़ा बयान, बोले- कोई भी परफेक्ट नहीं होता है, मैं तो...

भारतीय टीम के स्टार ओपनर केएल राहुल (KL RAHUL) को लेकर एशिया कप के बाद से चर्चाएं तेज़ हो गई हैं. राहुल एशिया कप के कुछ अमह मैचों में कारगर साबित नहीं हुए थे. राहुल ने लंबे वक़्त बाद टीम में वापसी की थी. केएल राहुल (KL RAHUL) के स्ट्राइक रेट को लेकर लोग कई सवाल उठा रहे हैं.

केएल राहुल (KL RAHUL) को एक बार ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाली टी20 सीरीज़ में चुना गया है और उन्हें बतौर ओपनर खिलाया जाएगा. मैच से पहले केएल राहुल (KL RAHUL) ने अपने स्ट्राइक रेट को लेकर बड़ी बात कही है.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलने में मज़ा आएगा

केएल राहुल(KL RAHUL) ने मैच से पहली हुई प्रसे कॉन्फ्रेंस में तमाम बातें की. उन्होंने अपनी चोट को लेकर बात करते हुए कहा, “चोट से वापस आने के बाद मैं अच्छा महसूस कर रहा हूं. ज़िम्बाब्वे दौरे पर 2 टी20 खेलना और फिर एशिया कप 2022 खेलना मेरे लिए ज़रूरी था. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घर में खेलने में मज़ा आएगा.”

कोई भी परफेक्ट नहीं होता

केएल राहुल(KL RAHUL) ने अपने स्ट्राइक रेट और फॉर्म के बारे में बात करते हुए कहा,

“कोई भी परफेक्ट नहीं है और पिछले कुछ महीनों में ये स्पष्ट हो गया है कि लोग और टीम खिलाड़ियों के क्या उम्मीद करते हैं. इस ड्रेसिंग रूम में कोई भी पूर्ण नहीं है. हर कोई कुछ करने के लिए काम कर रहा है. हर किसी की एक निश्चित भूमिका होती है. मैं स्ट्राइक रेट पर काम कर रहा हूं. निश्चित रूप में पिछले 10-12 महीनों में प्रत्येक खिलाड़ी के लिए लक्ष्य निर्धारित कर दिया गय है. हर किसी के पास स्पष्ट समझ है कि उससे किस चीज़ की उम्मीद है. मैं बस इसी ओर काम कर रहा हूं कि मैं बतौर समाली बल्लेबाज़ खुद को बेहतर कर सकूं.”

ALSO READ: SA20 लीग में इस खिलाड़ी की लगी सबसे महंगी बोली, नीलामी के बाद देखें कौन सा खिलाड़ी है किस टीम का हिस्सा

हर खिलाड़ी जानता है अपनी भूमिका

राहुल ने आगे बात करते हुए कहा,

“कई बातों के लिए आलोचना हो सकती है. लेकिन एक खिलाड़ी के लिए सबसे महत्वूपर्ण बात ये है कि ड्रेसिंग रूम में उसके कप्तान, कोच और टीम के साथी उसके बारे में क्या सोचते हैं. केवल हम ही जानते हैं कि प्रत्येक खिलाड़ी से क्या भूमिका की अपेक्षा की जा सकती है. हर कोई अपना बेस्ट देने की कोशिश कर रहा है, लेकिन कोई भी खिलाड़ी हर मैच में सफल नहीं हो सकता. हमने ऐसा माहौल बनाया है जहां खिलाड़ी गलती करने या असफल होने से डरते नहीं हैं. मैं इस दिशा में काम कर रहा हूं कि मैं सलामी बल्लेबाज़ के रूप में कैसे सुधार कर सकता हूं.”

ALSO READ: IND vs AUS First T20 Weather and Picth Report: भारत-ऑस्ट्रेलिया सीरीज से पहले आई बुरी खबर, अगर ऐसा हुआ तो रद्द हो जायेगा मैच