20वां ओवर डालने से पहले क्या हुई थी केएल राहुल से बात और क्या था प्लानिंग, मार्कस स्टोयनिस ने मैच के बाद किया खुलासा

इंडियन प्रीमियर लीग में 66वां मैच लखनऊ सुपर जायंट्स ( Lucknow Super Giants) और कोलकाता नाइट राइडर्स ( Kolkata Knight Riders) के बीच डीवाई पाटिल स्टेडियम में खेला गया। इस मैच में लखनऊ सुपर जायंट्स ने ( LSG) टॉस जीतने के बाद पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया, जिसके बाद लखनऊ सुपर जायंट्स की पारी में दोनों सलामी बल्लेबाजों ने आखिरी गेंद तक बिना एक भी विकेट गंवाए, केकेआर के समाने 210 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया। जिसके केकेआर ने विकेट खोते हुए मैच को आखिरी ओवर तक अपनी पकड़ से दूर नहीं जाने दिया।

अंत में सुपर स्ट्राइक ऑफ द मैच रिंकू सिंह धमाकेदार अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए क्रीज कर थे। जिसके बाद 20वें ओवर के लिए ऑस्ट्रेलिया के ऑल राउंडर खिलाड़ी मार्कस स्टोयनिश गेंदबाजी के लिए आए। जानिए क्या था गेंदबाज का आखिरी ओवर के लिए प्लान

मार्कस स्टोयनिस ने बताया आखिरी ओवर का प्लान

marcus stoinis
marcus stoinis

मार्कस स्टोयनिश ने 19वें ओवर के पहले मात्र एक ओवर गेंदबाजी की थी। जिसमें उन्होंने 5 रन देकर कप्तान श्रेयस अय्यर का महत्वपूर्ण विकेट निकाला था। जिसके बाद 20वें महत्वपूर्ण ओवर के लिए उन्हें गेंदबाजी सौंपी गई। इस ओवर की पहली गेंद पर जी रिंकू सिंह ने चौका लगाया। अगली दो गेंद पर छक्का लगाया और फिर चौथी गेंद पर दौड़कर दो रन लिए। लेकिन इस बेहद रोमांचक मैच में पांचवी गेंद पर रिंकू सिंह का बेहतरीन वन हैंड कैच एविन लुईस ने लपक कर मैच लखनऊ के पक्ष में कर लिया। अंतिम गेंद पर उमेश यादव को स्टोयनिश ने क्लीन बोल्ड कर मैच खत्म कर दिया।

मैच के खत्म होने के बाद मार्कस स्टोयनिश ने आखिरी ओवर फेंकने से पहले अपने विचार के बारे बताया। उन्होंने कहा

“मैच के शुरू में मेरी भावना थी कि मुझे बीच से गेंदबाजी करनी चाहिए थी। ओवर की शुरुआत में आप परिस्थितियों के हिसाब से खेलते हैं, थोड़ी लंबी बाउंड्री तक, थोड़ा सा बल्लेबाज जो करना चाहता है। जैसे-जैसे चीजें खराब होती जाती हैं, आप उस दिशा में जाते हैं, जिसे आप गेंदबाजी करना पसंद करते हैं और जो आपके लिए काम करता है। यह मैच मेरे लिए सीख है। स्ट्राइकर यॉर्कर के लिए जाने में अधिक सहज महसूस करें। हम हमेशा कुछ न कुछ लक्ष्य रखते हैं – बल्लेबाजों के पैरों पर, स्टंप पर, अभ्यास में शंकु पर। हम उसे मैन ऑफ द मैच (लुईस कैच के लिए) दे रहे हैं। कांफ्रेंस होता है जो अच्छा है, हर कोई एक इनपुट चाहता है। लेकिन आपको वही गेंदबाजी करनी होगी जो आपको लगता है कि आपकी सर्वश्रेष्ठ गेंद है”।

ALSO READ: IPL 2022, KKR vs LSG, STATS: मैच में बने 9 ऐतिहासिक रिकॉर्ड, क्विंटन डी कॉक ने लगाई रिकॉर्ड की झड़ी, तो ऐसा करने वाले पहले खिलाड़ी बने रिंकू सिंह

आंद्रे रसेल OUT लेकिन रिंकू सिंह के छक्कों की बारिश

कोलकाता नाइट राइडर्स की शुरुआत अच्छी नहीं रही। लेकिन मिडिल ऑर्डर में नीतीश राणा और कैप्टन श्रेयस अय्यर ने अपनी पारी से विशाल स्कोर के समाने टीम को मैच में विकेट गिरने के बाद भी पीछे नहीं हटने दिया। लेकिन आंद्रे रसेल के आउट होने के बाद केकेआर के फैंस ने उम्मीद छोड़ दी थी।

लेकिन क्रीज कर सुनील नरेन पर रिंकू सिंह आए। जिसके बाद से केकेआर की तरफ से विरोधी टीम के गेंदबाजी के ऊपर असली प्रहार शुरू हुआ। दोनों खिलाड़ियों के बीच मात्र 18 गेंद में 50 रन की साझेदारी हुई। जिसमें रिंकू सिंह ने 15 गेंदों पर दो चौके और चार छक्के की मदद से 40 रन और सुनील नरेन ने 7 गेंदों में तीन छक्कों की मदद से 21 रन बनाए है।

ALSO READ: LSG VS KKR : क्विंटन डी कॉक को नजरअंदाज कर केएल राहुल ने इस खिलाड़ी को दिया लखनऊ सुपरजायंटस के प्लेऑफ में पहुंचने का श्रेय