रिकी पोंटिंग

इंडियन प्रीमियर लीग ( IPL) 2022 में दिल्ली कैपिटल्स ( Delhi Capitals) टीम के मुख्य कोच रिकी पोंटिंग ( Ricky Ponting) ने होटल के कमरे में तोड़ फोड़ मचाने की बात समाने आई है। दरअसल, ये वाक्या दिल्ली कैपिटल्स ( DC) और राजस्थान रॉयल्स ( Rajasthan Royals) के साथ मैच का है।

जब अंतिम ओवर में मैदान पर काफी बवाल कटा था। नो बॉल के मामले में कप्तान, कोच और खिलाड़ियों ने सारी हदें पार कर दी थीं। तब शेन वॉटसन ने समझदारी दिखाई थी। लेकिन स्टेडियम से दूर होटल के कमरे में टीम के मुख्य कोच रिकी पोंटिंग ने अपना गुस्सा कमरे में तोड़ फोड़ मचाकर किया था।

रिकी पोंटिंग कमरे में थे क्वारेंटाईन

DELHI CAPITALS

इंडियन प्रीमियर लीग ( IPL) 2022 दिल्ली कैपिटल्स को मुख्य कोच रिकी पोंटिंग के परिवार के सदस्य कोविड 19 के शिकार पाए गए थे। जिसके बाद हेड कोच रिकी पोंटिंग को भी अलग कमरे में क्वार्टाइन होना पड़ा था। इस दौरान ही दिल्ली और राजस्थान रॉयल्स का मैच हुआ। जिसके अंतिम ओवर में नो बॉल को लेकर काफी बवाल हुआ।

रिकी पोंटिंग ने मचाई होटल में तोड़ फोड़

रिकी पोंटिंग

रिकी पोंटिंग स्टेडियम से दूर अपने होटल के कमरे में इस मैच को देख रहे थे। जिसके बाद नो बाल वाली घटना हुई, तब उन्होंने भी अपना आपा खो दिया। रिकी पोंटिंग ने बताया,

” वो मैच बहुत परेशान करने वाला था, उस मैच में मैंने कम से कम तीन से चार रिमोट कंट्रोल तोड़े होंगे। कुछ पानी की बोतले दीवार पर मारी थी और कई चीजे भी फेकी थीं। जब आप डग आउट में होते हैं तब आपके लिए चीजे आपकी पकड़ से बाहर होती है तब आप स्टेडियम से दूर होटल के कमरे में बंद होते हैं। तब चीजे और भी मुश्किल हो जाती हैं”।

ALSO READ:IPL 2022 Points Table: आईपीएल के 39वें मैच बाद साफ़ हुआ प्लेऑफ का समीकरण, इन 4 टीमों की जगह हुई पक्की, तो खत्म हुआ इन टीमों का सफर

टीम से है वापसी करने की उम्मीद

दिल्ली कैपिटल्स

ऋषभ पंत की कप्तानी में दिल्ली कैपिटल्स ( DC) की टीम सात मैच में तीन जीत के छ अंक के साथ आईपीएल प्वाइंट टेबल में सातवें स्थान पर है। जिसके विषय में रिकी पोंटिंग ने बात करते हुए कहा कि, ” मैने इस साल कई बार ये बात दोहराई है कि जहा 36 या 37 ओवर खेल सही होता है। वहीं तीन या चार ओवर में मैच गंवा देते हैं। यहीं महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। हम कोशिश के रहें है कि पहले चरण में ज्यादा दबाव ना लें। हमे सकारात्मक रहने की जरूरत है। यहां से हम जितनी वापसी की कोशिश करेंगे। चीजे हमारे लिए मुश्किल होंगी। हम धैर्य के साथ वही करना चाह रहें हैं जोकि अभी तक करते आए हैं और नतीजे अपने आप ही हमारे पक्ष में आयेंगे”।

ALSO READ:IPL 2022: नीलामी में मिले थे मात्र 20 लाख अब राजस्थान रॉयल्स का बना सबसे बड़ा गेमचेंजर, सामने नहीं टिकता कोई बल्लेबाज