राशिद खान ने बताया अंतिम ओवर में राहुल तेवतिया से क्या हुई बात जिसके बाद उस ओवर में बने 25 रन
राशिद खान ने बताया अंतिम ओवर में राहुल तेवतिया से क्या हुई बात जिसके बाद उस ओवर में बने 25 रन

इंडियन प्रीमियर लीग ( IPL) में सनराइजर्स हैदराबाद ( Sunrisers Hyderabad )और गुजरात टाइटंस (Gujrat Titans) के साथ मैच में अंतिम ओवर काफी रोमांचक रहा। गुजरात टाइटंस की तरफ से राहुल तेवातिया और राशिद खान क्रिज पर मौजूद थे। आमतौर पर अपनी फिरकी गेंदबाजी से मैच का रुख बदलने वाले राशिद खान ने पारी के अंतिम ओवर में बल्ले से वो करके दिखा दिया, जिसके बाद सभी दंग रहे गए और राशिद खान ( Rashid Khan) ने अपनी पुरानी फ्रेचाइजी के सामने अंतिम ओवर के दबाव के बीच तीन छक्के लगाकर मैच और महत्वपूर्ण दो अंक अपने टीम के नाम कर लिया। राशिद खान की इस पारी के चर्चें लंबे समय तक टीम के मनोबल को ऊंचा रखने में मदद करेगी।

राशिद खान और राहुल तेवतिया ने अंतिम ओवर में बनाए 25 रन

राशिद खान

गुजरात टाइटंस की टीम लगातार अच्छा प्रदर्शन करके प्वाइंट टेबल की टॉपर बनी हुई है। सनराइजर्स हैदराबाद के साथ मैच में गुजरात टाइटंस की टीम उमरान मलिक की धाकड़ गेंदबाजी के बाद लड़खड़ती नजर आई थी। जिसके बाद टीम के उपकप्तान राशिद खान औऱ राहुल तेवतिया ने पारी को संभाला और मैच जीतकर अपने नाम किया। टीम को अंतिम ओवर में 22 रन की दरकार थी। जिस पर पारी की पहली गेंद पर छक्का लगा। फिर एक रन के बाद स्ट्राइक राशिद खान के हाथ में थी, जिसके बाद राशिद खान ने अंतिम गेंद पर छकके के साथ ओवर में कुल तीन छक्के लगाए, जिसके बदौलत हाथ से निकलता मैच गुजरात टाइटंस ने अपने नाम कर लिया।

ALSO READ: वो 3 खिलाड़ी जिनका करियर पृथ्वी शॉ और शुभमन गिल के वजह से हो सकता है शुरू होने से पहले ही ख़त्म

राशिद खान बोले मुझे अपनी बल्लेबाजी पर भरोसा था

RASHID KHAN IPL 2022

राशिद खान ने मैच के बाद टीम के लिए मैच जीतने की अपनी खुशी जाहिर की। जिसके बाद उन्होंने कहा कि उन्हें अपनी पारी पर भरोसा है। साथ ही अंतिम ओवर से पहले गेंदबाज लॉकी फर्ग्युसन ने 25 रन लुटाये, उसका भी जिक्र किया। राशिद खान ने अपनी पारी में 11 गेंदो में 31 रन बना दिए। जिसके बाद उन्होंने कहा कि

“मुझे बहुत अच्छा लग रहा है। मुझे अपनी बल्लेबाजी पर भरोसा है। साथ ही फिटनेस पर भी कि मै मार सकता हूं। मुझे खुशी है कि मैनें सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ ऐसा प्रदर्शन किया। मैने अपनी बल्लेबाजी पर भरोसा बनाए ऱखा। इसके पीछे का कारण है कि मै पिछले दो साल से इसके ऊपर काम कर रहा हूं। जब अंतिम ओवर में 22 रन चाहिए थे। तो मैनें तेवातिया से कहा कि लॉकी फर्ग्युसन नें ओवर में 25 रन दिए हैं। अब हमारी बारी है। एक गेंद अगर खाली जाती है तो घबराना मत क्योंकि मै मैच को खत्म करने वाला हूं”।

ALSO READ: “उसे इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में मौका मिले” युवा गेंदबाज के फैन हुए सुनील गावस्कर, भारत को मिल गया अपना डेल स्टेन