श्रेयस अय्यर

इंडियन प्रीमियर लीग 2022 (IPL 2022) के 30वें मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स का सामना राजस्थान रायल्स के साथ मुंबई के ब्रेबोन स्टेडियम में हुआ। इस मैच में केकेआर के कप्तान श्रेयस अय्यर ने टास जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। 

राजस्थान की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए जोस बटलर की शतकीय पारी के दम पर 20 ओवर में 5 विकेट पर 217 रन बनाए। केकेआर को जीत के लिए 218 रन का टारगेट मिला, लेकिन ये टीम 19.4 ओवर में 210 रन पर आल आउट हो गई और उसे 7 विकेट से हार मिली। राजस्थान की तरफ से चहल ने घातक गेंदबाजी की और हैट्रिक समेत कुल 5 विकेट लिए।

लगातार हार से नाखुश श्रेयस अय्यर

इस मैच में KKR के लिए श्रेयस अय्यर ने सबसे ज्यादा 85 रन बनाए लेकिन फिर भी वह टीम को मैच नही जीता सके। मैच के बाद कप्तान श्रेयस अय्यर ने कहा,

“मुझे लगता है कि हम शुरू से रन रेट के हिसाब से अच्छा चल रहे थे। फिंची अच्छा था लेकिन एक बार जब वह आउट हो गया तो हम थोड़ा धीमा हो गए। हमारे पास वहां थोड़ी कमी थी, लेकिन यह खेल का हिस्सा है। दुर्भाग्य से हम क्लिक नहीं कर सके। मेरी योजना अंत तक बल्लेबाजी करने की थी, विपरीत बल्लेबाज को इसे पहली गेंद से लेना था। मैचअप राणा का चहल के साथ था। उसके पास समय नहीं था और ऐसा होता है।” 

ALSO READ:IPL 2022 KKR vs RR: ”थोड़ा तो गरीब पर रहम करो’ बटलर का ताबड़-तोड़ धुनाई के बाद KKR गेंदबाजो का बना मजाक, ठोका दूसरा शतक

बटलर हैं शानदार बल्लेबाज

जोस बटलर

श्रेयस अय्यर ने आगे कहा,

“उन्होंने [बटलर] ने थोड़ी धीमी शुरुआत की और उसके बाद बस चले गए। वह जिस तरह से गेंद को मारते हैं, वह एक उत्तम दर्जे का बल्लेबाज है। उन्होंने जिस तरह से बल्लेबाजी की उसके लिए बधाई। अगर हम उसे जल्दी आउट कर देते, तो स्कोरबोर्ड बहुत अलग दिखता। आज रात ड्यू ने कोई बड़ी भूमिका नहीं निभाई। बल्लेबाजी करने के लिए शानदार विकेट। दुर्भाग्य से ब्रेबोर्न हमारे लिए अच्छा नहीं रहा। उम्मीद है कि आने वाले मैचों में हम जोरदार वापसी करेंगे। बहुत दबाव है और मुझे दबाव पसंद है। मैं सिर्फ एक उदाहरण स्थापित करना चाहता था, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि उन्हें कितना भी अंक मिले। अगर वे इसे प्राप्त कर सकते हैं, तो मैं भी इसे प्राप्त कर सकता हूं। ऐसा मैं सोच रहा था।”

ALSO READ:IPL 2022RRvsKKR STATS : राजस्थान की रोमांचक जीत के साथ मैच में बने कुल 12 रिकॉर्ड्स, युजवेंद्र चहल ने रच दिया इतिहास