kkr

IPL 2022 का 14वाँ मैच पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में बुधवार, 6 अप्रैल को शाम 7.30 बजे से कोलकाता नाइट राइडर्स और मुंबई इंडियंस के बीच खेला जाएगा. इस मैच से पहले आईपीएल 2022 में दोनों टीमों के प्रदर्शन के बारे में तो कोलकाता की टीम 3 मैच खेल कर 2 मैच जीत चुकी है तो 1 में उसे हार मिली है.

इसके अलावा मुंबई इंडियंस के लिए इस ये टूर्नामेंट अभी तक ज़्यादा बेहतर नहीं गुज़रा है और उसे अपने पहले दोनों मैचों में ही हार का सामना करना पड़ा है. इस मैच में जीत हासिल करने के लिए दोनों ही टीम अपनी मजबूत प्लेइंग इलेवन उतारना चाहेंगी. इसी सिलसिले में इस आर्टिकल में हम बात करेंगे कोलकाता नाइट राइडर्स की संभावित प्लेइंग इलेवन के बारे में.

सलामी बल्लेबाज़ – अजिंक्य रहाणे और वेंकटेश अय्यर

अजिंक्य रहाने

मुंबई इंडियंस के खिलाफ़ अच्छी शुरुआत के लिए कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम काफ़ी हद तक अपने सलामी बल्लेबाज़ों के ऊपर निर्भर रहेगी. चेन्नई के खिलाफ़ पहले मैच में 44 रन की पारी के अलावा अगले दोनों मैचों में अजिंक्य रहाणे अगले दोनों मैचों में 9 और 12 रनों की पारी के साथ फ़्लॉप रहे.

दूसरी तरफ़ वेंकटेश अय्यर की बात करें तो वो भी अभी तक इस सीज़न में ज़्यादा बेहतर प्रदर्शन नहीं कर सके हैं. लेकिन इसके बावजूद कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम अपने इन दोनों सलामी बल्लेबाजों को एक और मौका दे सकती है. इस लिहाज़ से ये दोनों खिलाड़ी मुंबई के खिलाफ़ मैच में पारी की शुरुआत कर सकते हैं.

मध्यक्रम – श्रेयस अय्यर (कप्तान), सैम बिलिंग्स (विकेटकीपर) और नितीश राणा

श्रेयस अय्यर

कोलकाता के पास एक मजबूत मध्यक्रम है और कप्तान श्रेयस अय्यर के साथ सैम बिलिंग्स और नितीश राणा की तिकड़ी से भी टीम को काफ़ी उम्मीदें होंगी. हालांकि अभी तक कप्तान श्रेयस अय्यर बल्ले से उतना प्रभावित नहीं कर सके हैं और कुल 59 रन ही टूर्नामेंट में बना सके हैं.

पिछले मैच में शून्य पर आउट होने वाले नितीश राणा के नाम भी 31 रन ही हैं. इसके अलावा 2 बार 20 से ज़्यादा का स्कोर बनाने वाले सैम बिलिंग्स के नाम भी कुल 68 रन हैं. इसलिए ये तीनों ही बल्लेबाज़ मुंबई इंडियंस के खिलाफ़ होने वाले मैच में वापसी के लिए बेताब होंगे.

ऑलराउंडर्स – आँद्रे रसल और सुनील नरेन

आंद्र रसेल

बीते कुछ मैचों में सीनियर कैरिबियाई ऑलराउंडर आँद्रे रसल कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए संकटमोचक साबित हुए हैं. उनकी 18 गेंदों में खेली गई 25 रनों की पारी की बदौलत ही केकेआर की टीम बैंगलोर के खिलाफ़ 128 रनों का सम्मानजनक स्कोर बना पाई थी. इसके अलावा पंजाब के खिलाफ़ खेली गई 31 गेंदों में 70 रनों की पारी ने टीम को 15वें ओवर में ही जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी.

दूसरी तरफ़ सुनील नरेन की बात करें तो उन्हें अभी तक बल्लेबाज़ी करने के ज़्यादा मौके नहीं मिले हैं. बैंगलोर के खिलाफ़ नरेन के बल्ले से 12 रन निकले थे. इसके अलावा वो टीम के लिए एक किफ़ायती गेंदबाज़ साबित हुए हैं अपने नाम 2 विकेट भी दर्ज कराए हैं. हालांकि नरेन को बल्ले से ज़्यादा गेंद से कमाल दिखाने के लिए ही जाना जाता है. मुंबई के खिलाफ़ होने वाले मैच में बतौर ऑलराउंडर नरेन की भी भूमिका बेहद अहम होने वाली है.

ALSO READ:IPL 2022: RCB की रोमांचक जीत के बाद कप्तान फाफ डुप्लेसिस ने दिनेश कार्तिक को नही, इस खिलाड़ी को बताया जीत का असली हीरो

गेंदबाज़ – टिम साउदी, उमेश यादव, वरुण चक्रवर्ती और शिवम मावी

उमेश यादव

इस बार बिना किसी बहस के ये कहा जा सकता है कि आईपीएल 2022 में कोलकाता के पास सबसे मजबूत गेंदबाज़ी लाइन-अप है. हालांकि टीम को अपने वरुण चक्रवर्ती और शिवम मावी जैसे अपने युवा गेंदबाज़ों से कुछ कमाल की उम्मीद थी लेकिन जिस तरह से दोनों सीनियर तेज़ गेंदबाज़ों, टिम साउदी और उमेश यादव ने अभी तक गेंदबाज़ी की है वो वाक़ई बाकी टीमों के लिए सरदर्द का सबब बन चुका है.

इन दोनों सीनियर गेंदबाज़ों ने आईपीएल 2022 में अभी तक लगातार निरंतरता दिखाई है. 3 मैचों में 8 विकेट चटका चुके उमेश यादव पर्पल कैप की रेस में पहले नंबर पर बरकरार हैं तो वहीं 5 विकेट के साथ इस रेस में अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं.

ALSO READ:IPL 2022: न कोच, न कप्तान, न कोई खिलाड़ी ‘मैन ऑफ मैच’ लेते हुए दिनेश कार्तिक ने इस शख्स को दिया अपने प्रदर्शन का श्रेय