W W W दीपक चाहर और अक्षर पटेल के तूफान में उड़ी जिम्बाब्वे, मात्र 189 रनों पर आलआउट हुई टीम
W W W दीपक चाहर और अक्षर पटेल के तूफान में उड़ी जिम्बाब्वे, मात्र 189 रनों पर आलआउट हुई टीम

टीम इंडिया और जिम्बाब्वे के बीच पहला वनडे मैच हरारे स्पोट्स क्लब, हरारे में खेला जा रहा है. इस मैच में इंडिय ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी करने का फैसला किया था. बल्लेबाज़ी के लिए मैदान पर उतरी जिम्बाब्वे की शुरुआत कुछ खास नहीं हो पाई. जिम्बाब्वे ने अपना पहला विकेट 7वें ओवर में इनोसेंट काइया (4) के रुप में खोया. उसके बाद 11वें ओवर की शुरुआत तक टीम ने कुल 4 विकेट गंवा दिए. इसके बाद टीम गिरती ही चली हई

हावी रहे भारतीय गेंदबाज़

INDIAN BOWLERS

पहले गेंदबाज़ी करने उतरी भारतीय टीम के गेंदबाज़ जिम्बाब्वे पर शुरुआत से हावी दिखाई दिए. इंजरी से उभरने के बाद टीम में लंबे वक़्त बाद वापस आने वाले दीपक चाहर ने 3 विकेट अपने नाम किए. इसके अलावा प्रसिद्ध कृष्णा 3 विकेट, अक्षर पटेल 3 विकेट और मोहम्मद सिराज़ ने 1 विकेट अपने नाम किया. वहीं मोहम्मद सिराज ने 2, अक्षर पटेल ने 2 और कुलदीप यादव ने 1 ओवर मेडन फेंका.

कमज़ोर दिखा जिम्बाब्वे का बल्लेबाज़ी क्रम

ZIMBABWE

पहले बल्लेबाज़ करने उतरी जिम्बाब्वे टीम शुरुआत से ही कमज़ोर दिखाई दी. ज़िम्बाब्वे की तरफ से पारी की शुरुआत करने आए. इनोसेंट काइया(4) और तड़ीवानशे मरूमानी(8) जल्द ही पवेलियन लौट गए.

इसके बाद वेस्ले मधवीरे 5 रन बनाकर, शॉन विलियम्स 1 रन, सिकंदर रज़ा, 12 रन रेगिस चकाब्वा 35 रन, रायन बर्ल 11 रन, ल्यूक जोंग्वे 13 रन, रिचर्ड नगरवा 34 रन और विक्टर न्यायूछी ने 8 रन बनाए.

ALSO READ: वीरेंद्र सहवाग ने बयां की साल 2003 वर्ल्ड कप की कहानी, बताया अख्तर की धमकी और अफरीदी की गाली का कैसे दिया जवाब

जिम्बाब्वे का स्टार बल्लेबाज़ हुआ नाकाम

बता दें, जिम्बाब्वे टीम में मौजूद सिकंदर रज़ा इस मैच में बिल्कुल फ्लॉप दिखाई दिए. बीते कुछ मैचों में उन्होंने टीम के लिए काफी अच्छी पारियां खेलीं. लेकिन इस मैच में बिल्कुल ही नाकाम दिखाई दिए. नंबर पांच पर टीम के लिए बल्लेबाज़ी करने आए सिकंदर रज़ा सिर्फ 17 गेंदों में 1 चौके की मदद से 12 रनों की पारी ही खेलने में कामयाब हो सके.

9 वें विकेट के लिए हुई शानदार पार्टरनशिप

जिम्बाब्वे की तरफ से बल्लेबाज़ी करने उतरे रिचर्ड नगरवा और ब्रैड इवांस के बीच 9वें विकेट के लिए 50 रनों की शानदार पार्टरनशिप हुई. इस पार्टरनशिप को बनाने के लिए 49 गेंदों का इस्तेमाल किया गया. इस पार्टनरशिप के बदौलत टीम एक सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचने में कामयाब हुई.

ALSO READ:रूकने का नाम नहीं ले रहा चेतेश्वर पुजारा का बल्ला, लगातार दोहरे शतक के बाद अब तूफानी पारी खेल टीम को दिलाई जीत