ब्रैड इवांस और रिचर्ड नागरवा
ब्रैड इवांस और रिचर्ड नागरवा

भारत और जिम्बाब्वे (IND vs ZIM) के बीच तीन मैच की वनडे सीरीज का आगाज हो चुका है। हरारे के हरारे स्पोर्ट्स क्लब मैदान में तीनों मैच खेले जाएंगे। सीनियर खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी में जहां टीम इंडिया की कमान केएल राहुल के हाथों में है, वहीं जिंबाब्वे की कप्तानी सीरीज में विकेटकीपर बल्लेबाज रेजिस चकाबवा संभाल रहे हैं। 

भारत को मिला था 190 रनों का लक्ष्य

जिम्बाब्वे के खिलाफ पहले वनडे में भारत के कप्तान केएल राहुल ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। भारत की कसी हुई गेंदबाजी के सामना जिम्बाब्वे की टीम 40.3 ओवर में 189 रन बनाकर ढेर हो गई। 

जीत के लिए भारत को 190 रन बनाने का लक्ष्य मिला था, जिसे भारत  ने बिना विकेट गंवाए 30.5 ओवर में ही खत्म कर दिया। भारत के लिए सबसे ज्यादा 3-3 विकेट दीपक चाहर, अक्षर पटेल और प्रसिद्ध कृष्णा ने लिए। वहीं एक सफलता मोहम्मद सिराज के हाथ लगी।

ब्रैड इवांस और रिचर्ड नागरवा की अहम साझेदारी

पहले बल्लेबाजी करने उतरी जिम्बाब्वे के शुरुआत बेहद खराब रही थी। महज 31 रन के स्कोर पर जिम्बाब्वे ने 4 विकेट गंवा दिए थे। ऐसे में कप्तान चकाबवा ने एक छोर संभाल लिया था, लेकिन दूसरे छोर से विकेट गिरते रहे। 

ALSO READ: सच आया सामने इसलिए Ravindra Jadeja से आईपीएल के बीच छीन ली गई थी चेन्नई सुपर किंग्स की कप्तानी!

ऐसे में निचले क्रम बल्लेबाजों ब्रैड इवांस और रिचर्ड नागरवा ने मोर्चा संभाला और नौवें विकेट के लिए 65 गेंद में 70 रन की साझेदारी करके टीम को सस्ते में ढेर होने से बचा लिया। 

नागरवा को प्रसिद्ध कृष्णा ने बोल्ड करके इस साझेदारी को तोड़ा। नागरवा ने 42 गेंद में 34 रन की पारी खेली। वहीं इनांस 29 गेंद में 33 रन बनाकर नाबाद रहे। ब्रैड इवांस ने मिड इनिंग्स ब्रेक में कहा,

“मैं अपने आप को बैटिंग में बैक करता हूं। हम इसे यथासंभव सरल रखने की कोशिश कर रहे थे, गेंद को देखो, गेंद को हिट करो, वह (नगारवा) मुझसे ज्यादा बेहतर खेलने में सक्षम था। इस श्रृंखला में हम केवल यह दिखाना चाहते हैं कि हम प्रतिस्पर्धा कर सकते हैं। अगर हम 2-3 विकेट हासिल कर लेते हैं और उनके लिए मुश्किल खड़ी कर देते हैं, तो इससे हमें आगे बढ़ने का आत्मविश्वास मिलेगा।”

ALSO READ: तलाक की खबरों को लेकर युजवेंद्र चहल ने तोड़ी चुप्पी, बताया इसके पीछे की वजह