IND vs WI: चोटिल रविंद्र जडेजा क्या पहले वनडे से होंगे बाहर, मैच से पहले कप्तान ने शिखर धवन ने किया साफ़
IND vs WI: चोटिल रविंद्र जडेजा क्या पहले वनडे से होंगे बाहर, मैच से पहले कप्तान ने शिखर धवन ने किया साफ़

इंग्लैंड के बाद अब भारतीय टीम वेस्टइंडीज दौरे पर है रोहित शर्मा और विराट कोहली जैसे सीनियर खिलाड़ी की गैरमौजूदगी में भारतीय टीम शिखर धवन की कप्तानी में आज से शुरू हो रहे वनडे सीरीज के लिए उतरेगी. यह मैच 22 जुलाई मतलब आज   त्रिनिदाद के क्वींस पार्क ओवल, पोर्ट ऑफ स्पेन स्टे़डियम में खेला जाना है. मुकाबले से पहले ही अनुभवी ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा की चोटिल होने की खबर आई थी. ऐसे में क्या अब पहले वनडे से वह बाहर होंगे इस पर खुद कप्तान शिखर धवन ने जवाब दिया है.

बता दें, चोट के चलते जडेजा को वनडे सीरीज से भी बाहर रखा जा सकता है ताकि वह टी20 सीरीज में हिस्सा ले सके। टी20 वर्ल्ड कप से पहले टीम इंडिया जडेजा जैसे अनुभवी ऑलराउंडर को किसी  भी कीमत पर नहीं खोना चाहेगी. आइये जानते है क्या कहा कप्तान शिखर धवन ने…

जडेजा के चोट पर शिखर धवन ने दिया बयान

रविंद्र जडेजा
रविंद्र जडेजा

मैच से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में धवन ने कहा ‘अभी, उसे थोड़ी परेशानी है इसलिए हमें नहीं पता कि वह पहले वनडे के लिए तैयार होगा या नहीं।’

हालाँकि BCCI ने अभी अधिकारिक जानकारी नही दी है पर शिखर धवन के बयान से माना जा रह खिलाड़ी चोट से जूझ रहा है. धवन ने आगे बात करते हुए कहा कि,

‘टीम में सिराज हैं, प्रसिद्ध हैं और हमारे पास अद्भुत तेज गेंदबाजी है। स्पिन में अक्षर पटेल हैं और युजवेंद्र चहल हैं, हमारे पास गेंदबाजी इकाई का अच्छा समूह है इसलिए यह बहुत प्रभावशाली होगा।’

ALSO READ:IND vs WI: वेस्टइंडीज सीरीज से पहले BCCI ने करायी इस धाकड़ खिलाड़ी का एंट्री, खेलना हुआ पक्का, खौफ में विरोधी

कप्तान बनने पर धवन ने जताई ख़ुशी

शिखर धवन कप्तान

सीनियर खिलाड़ी की गैरमौजूदगी में कप्तान बने धवन ने इस पर ख़ुशी जताते हुए कहा कि,

 ‘मैं टीम का नेतृत्व करने के लिए काफी उत्साहित हूं। जब भी युवाओं का नेतृत्व करने का मौका मिलता है मैं अपने अनुभव उनके साथ साझा करता हूं। सभी के पास हुनर है, लेकिन यह मानसिक पहलू के बारे में भी है और इसलिए मैं अपने अनुभव साझा करता हूं।’

बारिश पर बोलते हुए कप्तान ने आगे कहा कि,

‘हम बारिश की वजह से ट्रेनिंग नहीं कर पाए लेकिन हर कोई उत्साहित है। टीम में युवा हैं और उन्होंने युके में अच्छा प्रदर्शन किया है, इसलिए यहां ट्रेनिंग नहीं करने से उन पर ज्यादा असर नहीं पड़ेगा। यह काफी संतुलित पक्ष है, हमारे पास अनुभव और युवा दोनों हैं। उदाहरण के लिए सूर्यकुमार यादव बहुत अनुभवी हैं, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के मामले में वह युवा हैं, लेकिन जिस तरह की परिपक्वता उनके पास है, वह वाकई कमाल हैं। श्रेयस और शार्दुल भी लंबे समय से खेल रहे हैं।

ALSO READ:IND vs WI: वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले वनडे की प्लेइंग XI आई सामने, शिखर धवन इस खिलाड़ी का कराएंगे डेब्यू, देखें प्लेइंग XI