शोएब अख्तर

भारत और दक्षिण अफ्रीका (IND vs SA) के बीच पांच टी20 मैचों की सीरीज शुरू होने वाली है जिसका पहला मुकाबला 9 जून को खेला जाएगा। सीरीज में टीम इंडिया के कई अनुभवी खिलाड़ी को रेस्ट दिया गया है। इनमे नियमित कप्तान रोहित शर्मा, दिग्गज बल्लेबाज विराट कोहली और अनुभवी तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह शामिल हैं। साथ सीरीज से पहले उमरान मलिक ने शोएब अख्तर की रिकॉर्ड तोड़ने पर अपनी बात रखी हैं.

इस तेज़ गेंदबाज़ ने दिया बड़ा बयान

इस सीरीज के लिए कई नए युवा खिलाड़ी को चुना गया है जिनमे एक तेज़ तर्रार खिलाड़ी शामिल है। जम्मू-कश्मीर के उमरान मलिक को पहली बार टीम में शामिल किया गया है। उमरान ने आईपीएल में अपनी तेजी से सबको प्रभावित किया था। उन्होंने लगातार 150 किमी प्रति घंटा से ज्यादा की रफ्तार से गेंदबाजी की। उमरान की सबसे तेज गेंद 157 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से थी।

अब उमरान मालिक का टारगेट है कि वे पाकिस्तान के शोएब अख्तर के रिकॉर्ड को तोड़ने की कोशिश करने वाले है। अख्तर ने वर्ल्ड कप 2003 में इंग्लैंड के खिलाफ 161.3 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद की थी। उमरान ने एक इंटरव्यू में कहा,

“मैं भविष्य में शोएब अख्तर की सबसे तेज गेंद के रिकॉर्ड को टारगेट करूंगा। अगर ऊपर वाला ऐसा करने के लिए तैयार हैं, तो मैं सर्वश्रेष्ठ दूंगा और उम्मीद है कि मैं रिकॉर्ड तोड़ दूंगा। 150 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करने के लिए मुझे अपने फिटनेस स्तर को बनाए रखने की जरूरत है और उम्मीद है कि मैं ऐसा कर सकूंगा।”

ALSO READ:IPL 2022: घर पहुंचते ही इस ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने मुंबई इंडियंस पर लगाया गंभीर आरोप, कहा रोहित शर्मा ने दिया कभी न भूलने वाला गम

सीरीज पर होगा पूरा ध्यान

उमरान ने कहा कि उनका ध्यान रिकॉर्ड पर नहीं बल्कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज जीतने पर है। वो इसके लिए टीम की मदद करने के लिए तैयार है। उन्होंने आगे कहा,

“अभी मेरा ध्यान शोएब अख्तर के रिकॉर्ड पर नहीं है। मैं अच्छी गेंदबाजी करना चाहता हूं। तेज गेंदबाजी करना चाहता हूं और अपने देश को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सभी 5 मैच जीतने में मदद करना चाहता हूं। अगर ऊपर वाले ने चाहा तो मुझे वह रिकॉर्ड मिल जाएगा। लेकिन अभी ध्यान शरीर और ताकत को बनाए रखने पर है।”

उमरान ने आईपीएल 2022 में 14 मैचों में 22 विकेट लिए थे। 25 रन देकर 5 विकेट उनका बेस्ट प्रदर्शन रहा था। साथ ही उनका इकोनॉमी रेट 9 से ऊपर का रहा था जिसे वह सुधारना चाहेंगे। 

ALSO READ:IND vs SA: खतरे में हैं ऋषभ पंत का करियर, टीम इंडिया को मिला धोनी जैसा खतरनाक फिनिशर, अकेले बदल देता है मैच का रुख