मैच के दौरान अंपायर से हुई बड़ी गलती और भारतीय टीम को हारकर भुगतना पड़ा खामियाजा, 5 रन की हुई बेईमानी
मैच के दौरान अंपायर से हुई बड़ी गलती और भारतीय टीम को हारकर भुगतना पड़ा खामियाजा, 5 रन की हुई बेईमानी

भारतीय क्रिकेट टीम (INDIAN CRICKET TEAM0 और दक्षिण अफ्रीका टीम (SOUTH AFRICA CRICKET TEAM) के बीच एक बेहद मनोरंजन वाला मैच 9 गुरुवार की शाम दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम (ARUN JAITLEY STADIUM) में देखने को मिला। इस मैच में भारतीय टीम (INDIAN CRICKET TEAM) के 211 रन के हाई स्कोर के बाद भी टीम (TEAM INDIA) को जीत नहीं बल्कि एक आसान हार मिली है। इस हार के कई कारण हैं। लेकिन मैच में अंपायर से एक काफी बड़ी गलती हुआ। मैच के दौरान एक ऐसी घटना हुई, जिसके बाद भारतीय टीम (INDIAN CRICKET TEAM) को 5 रन मिल सकते थे। लेकिन अंपायर को चूक के कारण ऐसा नहीं हुआ। जानिए क्या है पूरा मामला

14वें ओवर में ऋषभ पंत के साथ हुआ ये चीटिंग

team india IND vs SA

भारतीय क्रिकेट टीम (INDIAN CRICKET TEAM) के बल्लेबाजी के दौरान पहली पारी के 14वे ओवर को तीसरी गेंद पर श्रेयस अय्यर (SHREYAS IYER) स्ट्राइक के लिए मौजूद थे। दक्षिण अफ्रीका (SOUTH AFRICA CRICKET TEAM) की तरफ से उनके बेहतरीन गेंदबाज कागिसो रबाडा (KAGISO RABADA) मौजूद थे। उनकी गेंद को श्रेयस अय्यर (SHREYAS IYER) ने लेग साइड की तरफ धकेला और एक रन के लिए भागने को कोशिश की। लेकिन सही समय पर खिलाड़ी में वापसी कर ली। जिसके बाद नॉन स्ट्राइकर एंड पर मौजूद कप्तान ऋषभ पंत (RISHABH PANT) ने भी क्रीज कर वापसी करनी चाही।

Also Read : IND vs SA: भारत की हार के साथ ही आई एक और बुरी खबर, केएल राहुल और कुलदीप के बाद ये खिलाड़ी भी हुआ बाहर

इस दौरान गेंदबाज कागिसो रबाडा ऋषभ पंत के रास्ते में आ गए। लेकिन ये गेंदबाज की गलती नहीं लग रही थीं। स्क्रीन पर कई बार इस विडियो को देखने के बाद इस लग रहा था कि कागिसो रबाडा में जानबूझकर कंधा आगे किया। ताकि ऋषभ पंत क्रीज तक नहीं पहुंच सके। वहीं हद तब हो गई जब फील्डर ट्रीस्टन स्टब्स रन आउट करने के चक्कर में ऋषभ पंत के समाने आ गए। लेकिन ऋषभ पंत गिरते पड़ते क्रीज पर पहुंच गए। हालांकि तब कागिसो रबाडा ने उनके पास जाकर बातचीत और हाथ मिलाया।

क्या कहते हैं नियम?

कगिसो रबाडा ने की ऋषभ पंत के साथ बेईमानी

क्रिकेट को जेंटलमैन गेम का दर्जा दिया जाता हैं। ऐसी परिस्थिति के निपटारे के लिए नियम बनाए गए हैं। क्रिकेट की रूलबुक के मुताबिक क्रिकेट का 41.5वां लॉ के मुताबिक जब ऐसी कोई घटना होती है। तब मैदानी अंपायर को फैसला करना पड़ता है कि खिलाड़ी को फील्डर ने जानबूझ कर रोकने की कोशिश की गई है या फिर गलती। जानबूझकर की गई कोशिश के दौरान अंपायर इसे डेड बॉल देता है। जिसके बाद खिलाड़ी आउट नहीं होता है। वहीं अगर इस मामले में शारीरिक तौर कर रोका जाता है। तब बल्लेबाजी टीम को पांच अंक ( 5 रन) दिए जाते हैं। साथ ही गेंद को भी नहीं गिना जाता है।

साथ ही अगर बल्लेबाज दौड़ रहा होता है और जानबूझकर उसे गिराया जाता है तब बल्लेबाज़ और टीम के खाते में रन जोड़ दिया जाता है। क्रीज पर मौजूद दोनों बल्लेबाज इस बात का निर्णय करते हैं कि अब कौन स्ट्राइक पर होगा।मैच में अंपायर्स को इस बात की सूचना फील्डिंग टीम के अधिकारी और मैच की गवर्निंग बॉडी को देना पड़ता है और गलती करने वाले खिलाड़ी पर जुर्माना भी ठोका जाता है।

Also Read : IND VS SA: दक्षिण अफ्रीका से मिली हार के बाद ऋषभ पंत पर फूटा जहीर खान का गुस्सा, पंत के इस फैसले को माना हार का जिम्मेदार