4 4 4 4 4 4 और 164 की स्ट्राइक रेट से तूफानी पारी खेलने के बाद ऋतुराज गायकवाड़ ने इन्हें दिया अपनी पारी का श्रेय
4 4 4 4 4 4 और 164 की स्ट्राइक रेट से तूफानी पारी खेलने के बाद ऋतुराज गायकवाड़ ने इन्हें दिया अपनी पारी का श्रेय

भारत और दक्षिण अफ्रीका (IND vs SA) के बीच सीरीज का तीसरा टी20 मैच विशाखापट्टनम में खेला जा रहा है। दक्षिण अफ्रीका के कप्तान तेंबा बावुमा ने टॉस जीता और टीम इंडिया को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया। 

पहली विकेट गिरने के बाद लड़खड़ाया भारत

IND vs SA

भारतीय टीम ने निर्धारित 20 ओवर में 5 विकेट खोकर 179 रन बनाए जिससे दक्षिण अफ्रीका को जीत के लिए 180 रन का लक्ष्य मिला। ओपनर ऋतुराज गायकवाड़ ने 57 रन की शानदार पारी खेली और अपने करियर का पहला अंतरराष्ट्रीय अर्धशतक भी जमाया। उन्होंने 35 गेंदों पर 7 चौके और 2 छक्के जड़े। 

ईशान किशन ने भी अर्धशतक जड़ा और 35 गेंदों पर 5 चौके और 2 छक्के लगाकर 54 रन बनाए। दोनों ने मिलकर 97 रन की ओपनिंग साझेदारी की। उप-कप्तान हार्दिक पंड्या ने 21 गेंदों पर 31 रन का योगदान दिया और नाबाद लौटे। दक्षिण अफ्रीका के लिए ड्वेन प्रिटोरियस ने 2 विकेट लिए जबकि कागिसो रबाडा, तबरेज शम्सी और केशव महाराज को 1-1 विकेट मिला।

ALSO READ: ‘मैं आज जो हूं सिर्फ गौतम गंभीर की वजह से हूं उन्होंने मुझे तैयार किया है’ इस खिलाड़ी ने गंभीर को दिया अपने करियर का श्रेय

ऋतुराज गायकवाड़ ने पिच को ही दिया अपनी शानदार पारी का श्रेय

ऋतुराज गायकवाड़ भारतीय टीम

मिड इनिंग्स ब्रेक में ऋतुराज गायकवाड़ ने कहा,

“मुझे लगता है कि शुरुआत करने के लिए यह एक मुश्किल विकेट है। थोड़ा अतिरिक्त उछाल था, धीमी वाली गेंद पकड़ रही थी। हमने इस श्रृंखला में अब तक देखा है… जैसे-जैसे खेल आगे बढ़ रहा है यह बेहतर होता जा रहा है। यह बेहतर होगा लेकिन मुझे लगता है कि 180 एक अच्छा लक्ष्य है।”

ऋतुराज गायकवाड़ ने कहा लक्ष्य पर्याप्त नहीं है लेकिन हम इसका बचाव कर सकते हैं. अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए ऋतुराज गायकवाड़ ने कहा कि

“10-15 रन कम लेकिन मुझे लगता है कि हम इस विकेट पर अच्छी गेंदबाजी कर सकते हैं। उनके स्पिनरों ने धीमी गति से गेंदबाजी की, इसलिए संदेश था कि धीमी गति से गेंदबाजी की जाए। तेज गेंदबाजों को अगर वे कठिन लेंथ से गेंदबाजी करते हैं तो उन्हें हिट करना मुश्किल होता है। बस ईमानदार रहो और अपने आप को सकारात्मक रूप से खेलो, यही मैं अपने आप को कम स्कोर के माध्यम से कह रहा था जो मुझे मिल रहा था। टी20 क्रिकेट में आपको साफ इरादे से बल्लेबाजी करनी होती है।”

ALSO READ: IND vs SA: “ऋषभ पंत की वनडे और टी20 में जगह भी नहीं बनती और बीसीसीआई ने उसे कप्तान बना दिया”