हरभजन सिंह ने महेंद्र सिंह धोनी को दिया विश्व कप 2011 जीत का श्रेय, कहा उनकी एक सलाह से हमने जीता पाकिस्तान के खिलाफ सेमीफाइनल
हरभजन सिंह ने महेंद्र सिंह धोनी को दिया विश्व कप 2011 जीत का श्रेय, कहा उनकी एक सलाह से हमने जीता पाकिस्तान के खिलाफ सेमीफाइनल

Ind vs Pak 2011 world cup semifinal match: भारतीय क्रिकेट टीम ने 2011 का विश्व कप जीता जिसकी यादें आज भी ताजा होती रहती हैं। 2011 टीम इंडिया के लिए घर में जीतकर सचिन तेंदुलकर को एक शानदार विदाई भी दी थी। जोकि सचिन तेंदुलकर का 6वां विश्व कप था।

इस पूरे टूर्नामेंट के हर मैच की अपनी यादें है। लेकिन भारत और पाकिस्तान के बीच खेले गए विश्व कप को याद करते हुए स्पिन गेंदबाज हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने हाल में जिक्र किया कि कैसे महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की एक सलाह ने मैच का पूरा रुख बदल दिया। जानिए क्या है पूरी बात…

भारत बनाम पाकिस्तान विश्वकप 2011 का मैच

IND VS PAK WC 2011

भारतीय क्रिकेट टीम और पाकिस्तान के बीच वनडे विश्व कप 2011 में सेमीफाइनल में भी आमना-सामना हुआ। इस मैच में सचिन तेंदुलकर की 85 रन की पारी एक साथ ही टीम इंडिया ने 260 रन का स्कोर खड़ा किया। अब पाकिस्तान के कप्तान मिस्बाह उल हक ने उमर अकमल ने साझेदारी करते हुए 24 गेंदों पर एक चौका और दो छक्के की मदद से 28 रन बनाए।

जिसके बाद भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी में टीम इंडिया के स्पिनर हरभजन सिंह को गेंद थमाई और उन्हें सलाह भी दी। पूर्व ऑफ स्पिनर हरभजन ने हाल में बताया कि उनकी सलाह के बाद अगले ओवर को पहली ही गेंद पर हरभजन सिंह को विकेट मिल गया।

धोनी ने दो थी सलाह भगवान को याद कर हरभजन सिंह ने कामरान अकमल का लिया विकेट

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व दिग्गज गेंदबाज हरभजन सिंह ने ”दिल से इंडिया” शो के दौरान कहा कि

”यह उन मैचों में से एक था, जहां मुझे लगा कि मैं थोड़ा नर्वस हो रहा हूं। मैंने पांच ओवर फेंके थे, जिसमें लगभग 26-27 रन दिए। इसके बाद ड्रिंक्स ब्रेक हुआ और उस समय धोनी ने मुझसे कहा, ‘भज्जू पा, आप वहां से डालोगे’ (विकेट के आसपास)। कामरान अच्छा खेल रहा था और मिस्बाह भी। वे रन बना रहे थे और उनके बीच की साझेदारी खतरनाक होती जा रही थी। फिर मैं गेंदबाजी करने आया और मैंने भगवान को याद किया। मैंने सिर्फ जीत के लिए प्रार्थना की। और भगवान ने मेरी बात सुन ली। जैसे मैंने विकेट के आसपास गेंदबाजी की, वैसे ही पहली ही गेंद पर मुझे कामरान अकमल का विकेट मिल गया। वह पूरी तरह से मेरी गेंद पर चकमा खा गए”।

Also Read : IND vs ZIM: जिम्बाब्वे के बल्लेबाज ने भारत को दी खुली चुनौती कहा Team India को 2-1 से देंगे मात

पाक टीम को किया था ऑल आउट

भारत बनाम पाकिस्तान के इस सेमीफाइनल मैच में टीम इंडिया पहले बल्लेबाजी करने उतरी थी। जहां सचिन तेंदुलकर ने सबसे ज्यादा 85 रन की पारी खेली थी और जीत के बाद उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच भी चुना गया था। टीम इंडिया की तरफ से 50 ओवर्स में 260 रन 9 विकेट के नुकसान पर बनाए गए थे। पाक टीम के गेंदबाज वहाब रियाज ने पांच विकेट लिए थे। बदले में पाक टीम 231 पर ही ऑल आउट हो गई थी।

Also Read : IND vs ZIM: ‘हमे हल्के में लेने की गलती न करे भारत नहीं तो…” जिम्बाब्वे के कोच ने सीरीज से पहले भारत को दी चेतावनी