TEAM INDIA

10 नवंबर को ICC टी20 वर्ल्ड कप 2022 में भारतीय टीम को इंग्लैंड (IND vs ENG) के खिलाफ 10 विकेट से शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा है। इस हार के साथ ही रोहित शर्मा एंड कंपनी अब टूर्नामेंट से बाहर हो चुकी है। 

एडिलेड ओवल में हुए इस सेमीफाइनल मैच में भारत ने इंग्लैंड को जीत के लिए 169 रनों का टारगेट दिया था, जिसे इंग्लिश टीम ने 16 ओवर में ही हासिल कर लिया। कुछ खिलाड़ी ऐसी रहे जो पूरे टूर्नामेंट में दमदार नही दिखे और अब उनका करियर संकट में पड़ सकता है। 

रोहित शर्मा ने किया बेहद निराश

सेमीफाइनल मुकाबले में भारतीय कप्तान रोहित शर्मा से बड़ी पारी की उम्मीद थी लेकिन वह एक बार फिर नाकाम रहे। रोहित ने 28 बॉल का सामना करते हुए महज 27 रनों का योगदान दिया और उन्होंने चार चौके लगाए। रोहित शर्मा का स्ट्राइक रेट 100 से भी कम का रहा। 

रोहित पकिस्तान के खिलाफ पहले मुकाबले में महज चार रन बना पाए थे। वहीं नीदरलैंड के खिलाफ हिटमैन ने 53 रनों की पारी खेलकर फॉर्म में लौटने का संकेत दिया था। हालांकि बाद में रोहित साउथ अफ्रीका, बांग्लादेश और जिम्बाब्वे के खिलाफ बल्ले से कमाल नहीं दिखा पाए। 

रोहित ने इस वर्ल्ड कप में 7 पारियों में सिर्फ 143 रन बनाए। कई लोग कहने लगे हैं की रोहित शर्मा से अब कप्तानी छिन जाएगी। इतना ही नहीं वह इस खराब प्रदर्शन के कारण टी20 फॉर्मेट से सन्यास भी ले सकते है। 

टी20 वर्ल्ड कप 2022 में रोहित की पारियां

मेलबर्न में पाकिस्तान के खिलाफ- 7 गेंद में 4 रन

सिडनी में नीदरलैंड के खिलाफ- 39 गेंद में 53 रन

पर्थ में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ- 14 गेंद में 15 रन

एडिलेड में बांग्लादेश के खिलाफ- 8 गेंद में 2 रन

मेलबर्न में जिम्बाब्वे के खिलाफ- 13 गेंद में 15 रन

एडिलेड में इंग्लैंड के खिलाफ- 28 गेंद में 27 रन

ALSO READ:इस खिलाड़ी पर फूटेगा टी20 विश्व कप हार का ठीकरा, दोबारा टीम इंडिया में नहीं मिलेगा मौका, खत्म हुआ करियर!

भुवनेश्वर कुमार पर भी उठ रहे सवाल

सेमीफाइनल में इंग्लैंड से हारने के बाद अब भारतीय तेज़ गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार पर भी गाज गिर सकती है। सेमीफाइनल मुकाबले में उन्होंने भी निराश किया। पावरप्ले में उनसे सटीक गेंदबाजी की उम्मीद थी पर वह इसमें असफल रहे। 

भुवनेश्वर कुमार ने मैच में अपने 2 ओवर में 25 रन खर्च कर दिए। इससे इंग्लैंड ने मैच जीतने के लिए अच्छी शुरुआत करते हुए पॉवरप्ले में बिना किसी नुकसान के 63 रन ठोक दिए थे। भुवनेश्वर इस वर्ल्ड कप में सिर्फ 4 विकेट चटका पाए और उनका इकोनॉमी रेट 6.16 का रहा। 

एशिया कप से ही भुवनेश्वर कुमार को लेके आलोचनाएं हो रही है। वे डेथ ओवर स्पेशलिस्ट रहे हैं, लेकिन पिछले कुछ समय से वह इसमें नाकाम रहे हैं। ऐसे में आगे चलके शायद उनके करियर पर संकट के बादल मंडरा सकते हैं।

ALSO READ: IND vs ENG: टी20 विश्व कप में भारत को खली इस खिलाड़ी की कमी, उसकी जगह मौका मिला ये खिलाड़ी बना विलेन