IND vs ENG: 'काश! वो कैच पकड़ लेते तो आज सीरीज हमारे नाम होती' टी20 के बाद वनडे सीरीज गंवाने के बाद टूट गए जॉस बटलर
IND vs ENG: 'काश! वो कैच पकड़ लेते तो आज सीरीज हमारे नाम होती' टी20 के बाद वनडे सीरीज गंवाने के बाद टूट गए जॉस बटलर

हार्दिक पंड्या के ऑलराउंड प्रदर्शन और ऋषभ पंत के पहले वनडे शतक की बदौलत टीम इंडिया ने तीसरे वनडे (IND vs ENG) मैच में इंग्लैंड को 5 विकेट से हरा दिया। इसके साथ ही भारत ने 3 मैचों की सीरीज को 2-1 से अपने नाम कर लिया। भारत ने 8 साल बाद इंग्लैंड को उसके घर में वनडे सीरीज में हराया है। जिसके बाद ‘काश! वो कैच पकड़ लेते तो आज सीरीज हमारे नाम होती’ टी20 के बाद वनडे सीरीज गंवाने के बाद टूट गए जॉस बटलर ने बड़ी बात कही.

तीसरे वनडे में इंग्लैंड की टीम टॉस हारकर पहले बैटिंग करते हुए 45.5 ओवर में 259 रन के स्कोर पर ऑलआउट हो गई। हार्दिक ने सबसे ज्यादा चार विकेट लिए। जवाब में भारत ने 42.1ओवर में 5 विकेट खोकर टारगेट हासिल कर लिया। पंत 113 गेंदों पर 125 रन बनाकर नाबाद रहे। हार्दिक पंड्या ने 71 रनों की पारी खेली।

इंग्लैंड ने अभी तक सर्वश्रेष्ठ नही खेला है: जॉस बटलर

IND vs ENG: 'वह समझ नहीं पाए यहां पहले बल्लेबाजी करने वालो की होती है जीत', जीत से गदगद बोले जॉस बटलर
IND vs ENG: ‘वह समझ नहीं पाए यहां पहले बल्लेबाजी करने वालो की होती है जीत’, जीत से गदगद बोले जॉस बटलर

पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन में इंग्लैंड के कप्तान जॉस बटलर ने कहा,

 ‘हमारे रन कम थे। हमें गेंद के साथ अच्छी शुरुआत की जरूरत थी और वैसी शुरुआत मिलना शानदार रहा। हमने मौके बनाए लेकिन दो खिलाड़ी मैच को हमसे दूर ले गए, वहीं हम मैच हार गए। जब आप खिलाड़ियों को मौक़ा देते हैं (पंत का स्टंपिंग छोड़ने को लेकर ) तो वे आपको परेशान करेंगे। हार्दिक के खिलाफ भी हाफ चांस दिया था। हमने जो स्कोर बनाया था, हमें आए सभी मौकों को भुनाने की जरूरत थी। मैं एक अनुभवी क्रिकेटर हूं लेकिन एक युवा कप्तान हूं। हम आदिल रशिद का टीम में वापस आने का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं, क्योंकि वो हमारी टीम के एक महत्वपूर्ण खिलाड़ी हैं।’

ALSO READ:लम्बे समय से भारतीय टीम में नहीं मिला मौका, अब विदेश में खेलेगा यह दिग्गज भारतीय खिलाड़ी, गौतम गंभीर का है शागिर्द

पांड्या का विकेट पाने से चूका था इंग्लैंड

जॉस बटलर ने आगे कहा,

अगर हम अपने मौके लेते, तो भारत की खेल पर पकड़ बना सकते थे। ईमानदार होने के लिए मैंने इसे (कप्तानी) बिल्कुल ठीक पाया है। एक मौका चूक गया लेकिन यह मत सोचो कि इसका कप्तानी से कोई लेना-देना है। मैं एक अनुभवी क्रिकेटर हूं लेकिन एक युवा कप्तान हूं। राश (राशिद) शायद लंबे समय से हमारी टीम के सबसे अहम खिलाड़ी रहे हैं। उसके वापस स्वागत के लिए तत्पर हैं।”

ALSO READ:IND vs ENG: भारत की बम्पर जीत के साथ आज के मैच में बने कुल 11 ऐतिहासिक रिकार्ड्स, पांड्या-पंत ने लगाई रिकार्ड्स की झड़ी