5 सबसे बदनसीब कप्तान जो अपने देश के लिए नहीं जीत सके 1 भी विश्व कप
5 सबसे बदनसीब कप्तान जो अपने देश के लिए नहीं जीत सके 1 भी विश्व कप

क्रिकेट हो या कोई भी खेल कप्तान की भूमिका सबसे ज्यादा अहम होती है। कप्तान ही वह इंसान होता है, जो अपनी योजनाओं से हारा हुआ मैच जीतवा सकता है। ऐसा मंजर हमने कई बार क्रिकेट के मैदान में देखा है। वर्ल्ड कप (WORLD CUP) जैसे टूर्नामेंट में तो कप्तानों की भूमिका और भी ज्यादा बढ़ जाती है।

महेंद्र सिंह धोनी (MS DHONI), रिकी पोंटिंग (RICKY PONTING) और इमरान खान (IMRAN KHAN) क्रिकेट की दुनिया के सबसे सफल कप्तानों में से एक रहे हैं। जिन्होने अपनी कमाल की सूझबूझ से अपनी टीमों को वर्ल्ड कप फाइनल के दबाव भरे क्षण से निकाल कर विश्व विजेता बनावाया है, लेकिन कुछ कप्तान ऐसे भी रहें हैं जो अपनी कप्तानी के दौर में एक बार भी टीम को खिताब नहीं दिला पाए हैं-

1. इंजमाम उल हक

पाकिस्तान (PAKISTAN) टीम के पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक (INZMAM UL HAQ) ने साल 2007 में टीम की कप्तानी का कार्यभार संभालते हुए 2007 के वर्ल्ड कप में प्रतिनिधित्व किया था, लेकिन उनकी कप्तानी में पाकिस्तान टीम पहले ही राऊंड में वर्ल्ड कप से बाहर हो गई थी, जिसके बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने इंजमाम उल हक को हटाकर शाहिद अफरीदी को कप्तानी सौंप दी थी।

2. केन विलियम्सन

केन विलियम्सन (KANE WILLIAMSON) क्रिकेट की दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी और COOL कप्तानों में से एक माने जाते हैं। लेकिन वह अपनी कप्तानी में न्यूजीलैंड (NEW ZEALAND) को एक भी वर्ल्ड कप नहीं जीतवा पाए हैं।

साल 2019 में केन की कप्तानी में न्यूजीलैंड इंग्लैंड से लड़ते हुए भी अंत में हार ही गई। फिर उसके बाद साल 2021 के टी20 वर्ल्ड कप में न्यूजीलैंड आस्ट्रेलिया से हार गई, जिसके बाद केन विलियम्सन की गिनती वर्ल्ड कप के स्टेजों में सबसे असफल कप्तानों में होने लगी।

3. महेला जयवर्धने

महेला जयवर्धने (MAHELA JAYWARDHANE) ने साल 2007 में अपनी टीम श्रीलंका (SRILANKA) को शानदार कप्तानी से वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंचाया था, लेकिन टीम को फाइनल मुकाबले में आस्ट्रेलिया से हार झेलनी पड़ी, जिसके बाद उनकी कप्तानी पद से छुट्टी हो गई।

ALSO READ: T20 WORLD CUP 2022: जसप्रीत बुमराह के बाद भारत को लगा एक और झटका, शानदार फॉर्म में चल रहा ये खिलाड़ी भी हुआ चोटिल, विश्व कप टीम से कट सकता है पत्ता!

4. ब्रैंडन मैकुलम

ब्रैंडन मैकुलम (BRANDON MCCLUUM) एक शानदार खिलाड़ी होने के साथ-साथ संन्यास के बाद अपनी कोचिंग का कमाल भी दिखाते हुए नजर आ रहे हैं, लेकिन वह एक सफल कप्तान नहीं बन सकें।

न्यूजीलैंड (NEW ZEALAND) की कप्तानी करते हुए मैकुलम ने अपनी टीम को फाइनल तक पहुंचाया था, लेकिन अंत में टीम को हार का सामना करना पड़ा, जिसके बाद उनके ऊपर फ्लॉप कप्तान का टैग लग गया।

5. सौरव गांगुली

सौरव गांगुली (SOURAV GANGULY) भारत (INDIA) के सबसे सफलतम कप्तानों में से एक माने जाते हैं, जिनकी कप्तानी में कई युवाओं ने अपने करियर को उड़ान दी है, लेकिन वह अपने करियर में एक भी वर्ल्ड कप भारत को नहीं जीतवा पाए। सौरव गांगुली की कप्तानी में भारत साल 2003 के वर्ल्ड कप में फाइनल में पहुंची थी, लेकिन भारत को हार का सामना करना पड़ा।

ALSO READ: ग्लेन मैक्ग्रा और वसीम अकरम से भी खतरनाक थे ये 3 भारतीय खिलाड़ी, महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में बर्बाद किया गया करियर!