‘ऋषभ पंत विकेटकीपिंग करते समय ठीक से बैठ भी नहीं पाता है वो ओवरवेट है’ पाकिस्तानी दिग्गज ने पंत पर कसा तंज
‘ऋषभ पंत विकेटकीपिंग करते समय ठीक से बैठ भी नहीं पाता है वो ओवरवेट है’ पाकिस्तानी दिग्गज ने पंत पर कसा तंज

भारतीय खेमे के स्टार विकेटकीपर-बल्लेबाज़ ऋषभ पंत(RISHAB PANT) अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाज़ी के लिए जाने जाते हैं. अफ्रीका के खिलाफ हो रही सीरीज(IND vs SA) में ऋषभ पंत(RISHAB PANT) को केएल राहुल(KL RAHUL) के चोटिल हो जाने के बाद कप्तानी की ज़िम्मेदारी दी गई थी. इस पूरी सीरीज में पंत का बल्ला खामोश रहा और वो अब तक चारो मैचों में एक ही शॉट खेलते हुए अफ्रीकी गेंदबाज़ों का शिकार बने.

ऋषभ पंत(RISHAB PANT) के इस शॉट को लेकर सुनील गवास्कर(SUNIL GAWASKER) ने भी कहा था कि उन्हें अपने पिछले मैचों से कुछ सीख लेनी चाहिए. अब एक पाकिस्तानी दिग्गज क्रिकेटर ने ऋषभ पंत(RISHAB PANT) की विकेट कीपरिंग को लेकर तीखा बयान दिया है. क्या कहा है आइए जानते हैं.

इस पाकिस्तानी दिग्गज ने दिया तीखा बयान

RISHAB PANT

पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर दानिश कनेरिया(DANISH  KANERIYA) ने ऋषभ पंत(RISHAB PANT) की विकेट कीपरिंग को लेकर एक बयान दिया है. उनका मानना है कि पंत ओवरवेट हैं. दानिश कनेरिया ने अपने यूटूब चैनल चैनल पर बात करते हुए कहा,

‘मैं पंत की विकेटकीपिंग के बारे में बात करना चाहता हूं. मैंने एक बात नोटिस की है – जब कोई तेज गेंदबाज गेंदबाजी कर रहा होता है तो वह नीचे नहीं बैठता और अपने पैर की अंगुलियों पर बैठता है. ऐसा लगता है कि वह ओवरवेट है और भारी होने के कारण उसे जल्दी उठने के लिए उतना समय नहीं मिलता है. यह उनकी फिटनेस को लेकर चिंता का विषय है. क्या वह 100 फीसदी फिट है, लेकिन जब बात उनके कप्तान की आती है तो हार्दिक और कार्तिक समेत गेंदबाजों और बल्लेबाजों ने उनका बखूबी साथ दिया है.’

ALSO READ: दिनेश कार्तिक के बाद अब मुरली विजय भी इस लीग से मैदान पर धमाल मचाने को तैयार, 2 साल बाद करेंगे मैदान पर वापसी

दिनेश कार्तिक की तारीफ

dinesh kartik

अपनी बातचीत में दिनेश कार्तिक के बारे में बात करते हुए कनेरिया ने कहा,

‘भारतीय टीम लंबे समय से संघर्ष कर रही थी, लेकिन हार्दिक पांड्या और दिनेश कार्तिक ने टीम को 169 रनों तक पहुंचाने में मदद की. कार्तिक को स्वीप करना और अपने पैरों का इस्तेमाल करना पसंद है. सब कुछ उनके अनुसार चल रहा था. यह डीके का दिन था. उन्होंने परिपक्वता के साथ बल्लेबाजी की. हार्दिक ने जिम्मेदारी भी दिखाई. उन्होंने सावधानी से शुरुआत की लेकिन अंत में बड़ी हिट दी.’

ALSO READ: Father’s Day Specail: पिता के त्याग से बेटी बनी इंटरनेशनल खिलाड़ी, आज भारत की चैम्पियन खिलाड़ी हैं पूजा वस्त्राकर