bhuvi shami

टीम इंडिया के लिए 2022 का टी-ट्वेंटी विश्व कप एक सीखने की प्रक्रिया भर रही. ग्रुप स्टेज में भारत ने जरूर बेहतर प्रदर्शन किया लेकिन सेमीफाइनल में भारत ने सबको निराश किया. ग्रुप स्टेज में भारत ने 5 में से 4 मुक़ाबले अपने नाम किया था और वह टेबल टाॅपर रहे थे. लेकिन नॉकआउट मुकाबले में भारत की प्रेशर ना ले पाने की वजह से भारत इंग्लैंड से 10 विकेट से हार गया.

हार का मुख्य कारण हमारे गेंदबाजों का खराब प्रदर्शन रहा, मोहम्मद शमी और भुवनेश्वर कुछ ख़ास नही कर सके. इसलिए हम इस लेख में ऐसे दो गेंदबाजों की बात करने वाले हैं जो उनकी जगह ले सकते हैं.

टीम इंडिया पर बोझ बन गये हैं ये 2 गेंदबाज

न्यूजीलैंड दौरे पर मोहम्मद शामी को मौका नही दिया गया है. वहीं भुवनेश्वर अभी भी टीम के साथ बने हुए हैं. लेकिन हमारे युवा तेज गेंदबाज इतनी तेजी से उभर रहे है कि वह जल्दी है टीम इंडिया के नियमित तेज गेंदबाज बन सकते हैं.

उनके नाम है, पेस बैट्री उमरान मलिक और कुलदीप सेन. घरेलू क्रिकेट में दो का प्रदर्शन शानदार रहा है, इसलिए उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ दौरे पर शामिल किया गया है.

ALSO READ:IPL 2023: आईपीएल 2023 से पहले मुंबई इंडियंस ने बदल दी पूरी टीम, इन दिग्गज खिलाड़ियों को दिखाया टीम से बाहर का रास्ता

जहीर खान को भी हैं उम्मीदें

भारत के पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान का कहना है कि भारतीय तेज गेंदबाज को न्यूजीलैंड की परिस्थित को ध्यान में रखते हुए गेंदबाज करनी होगी. खान साहब को कुलदीप सेन और उमरान मलिक से काफी उम्मीदें हैं.

जहीर खान ने कहा है कि,

‘यह एक रोमांचक सीरीज होगी. मैं इन पिचों पर उमरान मलिक को परफॉर्म करता देखने के लिए बेताब हूं. यह दौरा उनके और कुलदीप सेन के लिए बड़ा अनुभव साबित होगा. न्यूजीलैंड की पिचें तेज गेंदबाजों को मदद करेंगी और इससे दोनों टीमों के भाग्य में अंतर आएगा.’

भारतीय तेज गेंदबाज जहीर खान ने कहा कि भारतीय पेसर पहले टी20 के स्थल वेलिंगटन के लिए अपनी रणनीति अच्छी तरह तैयार कर लें जहां हवा तेज चलती है. तेज हवा के विपरीत और उसके साथ गेंदबाजी करना आपकी लय को प्रभावित करता है, इसलिए ऐसी परिस्थितियों में गेंदबाजी करने के लिए तैयार रहें.

ALSO READ: विश्व कप सेमीफाइनल में भारत की हार पर सचिन तेंदुलकर ने तोड़ी चुप्पी, आलोचकों को दिखाया आईना