CHETAN SHARMA TEAM INDIA

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने सीनियर पुरुष टीम के लिए राष्ट्रीय चयनकर्ताओं के पद के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। 18 नवंबर को BCCI ने भारतीय सीनियर राष्ट्रीय चयन समिति को बर्खास्त कर दिया जिसमे चेतन शर्मा हेड थे। 

28 नवंबर तक जमा करने होंगे आवेदन

BCCI की ओर से जारी किए गए बयान के अनुसार आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 28 नवंबर, 2022 है। जानकारी के अनुसार, राष्ट्रीय चयनकर्ता के लिए 5 पद रखे गए हैं। 

इसके लिए बीसीसीआई ने उम्मीदवारों से कहा है कि

“जो भी उम्मीदवार उक्त पद के लिए आवेदन करना चाहते हैं, उन्हें अपने आवेदन के लिए मानदंडों को पूरा करना होगा।”

राष्ट्रीय चयनकर्ता (वरिष्ठ पुरुष) के 5 पदों के लिए योग्यता के लिए कैंडीडेट का कम से कम 7 टेस्ट मैच या 30 प्रथम श्रेणी मैच या 10 वनडे और 20 प्रथम श्रेणी मैच खेलना आवश्यक है। इसके साथ ही उसे कम से कम 5 साल पहले खेल से संन्यास लिया हुआ होना चाहिए।

अन्य मानदंड में यह भी है कि आवेदनकर्ता कोई भी व्यक्ति जो कुल 5 वर्षों के लिए किसी भी क्रिकेट समिति (जैसा कि बीसीसीआई के नियमों और विनियमों में परिभाषित है) का सदस्य रहा है, पुरुषों की चयन समिति का सदस्य बनने के लिए पात्र नहीं होगा। 

ALSO READ:भारत-न्यूजीलैंड के बीच मैच रद्द होते ही वेलिंगटन में हुआ बड़ा बवाल, दिग्गज क्रिकेटर ने खोल दी कीवी टीम की पोल

BCCI का कड़ा फैसला

टीम इंडिया के ऑस्ट्रेलिया में टी20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में इंग्लैंड के हाथों मिली करारी हार के बाद अभियान समाप्त हो गया था। इसे देखते हुए बीसीसीआई ने कड़ा फैसला करते हुए सीनियर सेलेक्शन कमेटी को बर्खास्त कर दिया। 

इस चयन समिति में चेतन शर्मा, देवाशीष मोहंती, हरविंदर सिंह और सुनील जोशी शामिल थे। चेतन शर्मा के कार्यकाल के दौरान टीम इंडिया 2021 में खेले गए टी20 वर्ल्ड  कप के नॉकआउट चरण में नहीं पहुंच पाई थी। इसके अलावा वह वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भी हार गई थी। 

देखा जाए तो चेतन शर्मा के कार्यकाल के दौरान टीम में ऐसे कई बदलाव देखे गए जो बड़े हैरानी भरे और खराब थे। जैसे की दिग्गज भुवनेश्वर कुमार को केवल टी20 फॉर्मेट के अलावा किसी और प्रारूप में ना खिलाना। ये फैसला एक अच्छे खिलाड़ी के करियर के लिए काफी हानिकारक है। 

वहीं, कुलदीप यादव या पृथ्वी शॉ जैसे खिलाड़ी को मौके ना देना। लगातार ऋषभ पंत को मौका देना जो लगातार अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रहे हैं। इस कारण ईशान किशन और संजू सैमसन जैसे खिलाड़ी का करियर खराब हो रहा है। देखा जाए तो शायद चेतन शर्मा समेत पूरी समिति का बर्खास्त होना भारत के लिए अच्छा भी हो सकता है।

ALSO READ: Rivaba Jadeja: राजनीति में आने के बाद रिवाबा ने बदला स्टाइल, देखिए मिसेज रविंद्र जडेजा का साड़ी कलेक्शन