BCCI ने मारी अपने ही पैरों पर कुल्हाड़ी, एशिया कप में इन 3 खिलाड़ियों को नजरअंदाज करने का चुकाना पड़ सकता है खामियाजा
BCCI ने मारी अपने ही पैरों पर कुल्हाड़ी, एशिया कप में इन 3 खिलाड़ियों को नजरअंदाज करने का चुकाना पड़ सकता है खामियाजा

एशिया कप 2022 से पहले भारतीय क्रिकेट टीम जिंबाब्वे दौरे पर गई थी, और इस दौरे के दौरान टीम के वरिष्ठ अधिकारियों को आराम दिया गया था, जिसके चलते टीम में कई युवा Cricketers को चांस मिल सका था। इस सीरीज के दौरान टीम के कुछ खिलाड़ियों द्वारा बेहद शानदार प्रदर्शन भी दिखाया गया।

सीरीज के दौरान टीम इंडिया के तीन ऐसे बल्लेबाज रहें, जो टीम के लिए संकटमोचक साबित हुए। हालांकि आगामी एशिया कप 2022 में इन बल्लेबाजों को टीम में शामिल होने का मौका नहीं मिल सका। पूरी सीरीज के दौरान इन खिलाड़ियों द्वारा अपने बल्ले से जमकर तहलका मचाया गया। अपने प्रदर्शन से वह सबका दिल जीतने में भी कामयाब रहे।

ऐसी सिचुएशन में टीम के इन खिलाड़ियों को नजरअंदाज करके सेलेक्टर्स को अब पछतावा हो रहा होगा, इसकी सबसे बड़ी खासियत यह है, कि यह खिलाड़ी चंद गेंदों में ही मैच का रुख बदलने की पूर्ण काबिलियत रखते हैं। आइए आज के इस आर्टिकल के जरिए जानते हैं उन खिलाड़ियों के बारे में।

शिखर धवन

सीरीज के पहले मुकाबले में जिंबाब्वे के खिलाफ भारतीय टीम द्वारा बेहद ही शानदार प्रदर्शन किया गया था। इस मैच के दौरान टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन द्वारा अपनी तूफानी बल्लेबाजी से जिंबाब्वे के गेंदबाजी क्रम को रौंद दिया गया। उनकी विस्फोटक बल्लेबाजी को देखने के बाद मेजबान टीम के गेंदबाजों की आंखें फटी की फटी रह गई।

बाएं हाथ का यह बल्लेबाज पहले वनडे मैच के दौरान 82 रनों की पारी खेलने में कामयाब रहा। इसके बाद दूसरे मैच के दौरान वह 40 रनों का योगदान दे सका। पूरी सीरीज के दौरान यही दर्शाया गया कि उनके पास किसी भी विरोधी टीम के गेंदबाजी क्रम को ध्वस्त करने की पूर्ण काबिलियत मौजूद है।

उनके तरकश में हर वह तीर विद्यमान है, जिसके द्वारा विरोधी टीम को बर्बाद किया जा सकता है। इसके अतिरिक्त आईसीसी टूर्नामेंट के दौरान उनके बल्ले से बहुत अधिक तबाही मचाई गई। इसके बावजूद भी एशिया कप 2022 के दौरान उन्हें टीम में जगह नहीं मिल सकी।

शुभमन गिल

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान विराट कोहली की बेस्ट रिप्लेसमेंट माने जा रहे शुभमन गिल इन दिनों काफी सुर्खियां बटोरते नजर आ रहे हैं। बहुत ही कम समय में यह नाम इतना अधिक पॉपुलर हो चुका है कि जब कोहली टीम के लिए मौजूद नहीं होते हैं, तो तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने के लिए वह शुभमन गिल को भेजते हैं। क्योंकि विरोधी टीम को धूल चटाने का दमखल रखने वाले शुभमन गिल अब तक टीम के कप्तान और कोच की उम्मीदों पर बखूबी खरे उतरते नजर आए हैं।

अपनी क्लासिक बैटिंग से सभी को अपना दीवाना बनाने वाले शुभमन गिल विकेट पर टिककर बैटिंग करने के लिए पॉपुलर हैं। उनकी बदौलत भारतीय टीम कई मुकाबले जीतने में कामयाब रही।

इसके अतिरिक्त जिंबाब्वे दौरे पर टीम के लिए सबसे अधिक रन भी उन्होंने बनाए। लेकिन इस स्टार खिलाड़ी को एशिया कप के दौरान मौका नहीं मिल सका। इसी दौरे के दौरान उनके द्वारा अपने क्रिकेट करियर का पहला शतक भी जड़ा गया।

ALSO READ: विराट कोहली ने तोड़ी चुप्पी खुद ही दे दिया सबसे बड़े सवाल का जवाब, कहा खेल में आई ये कमी जिसकी वजह से हो गया आउट ऑफ फॉर्म

संजू सैमसन

फॉर्म में होने के बावजूद भी एक ऐसा धाकड़ बल्लेबाज जिसे एशिया कप 2022 के दौरान टीम में जगह नहीं मिल सकी, उसका नाम है संजू सैमसन। टूर्नामेंट के लिए संजू सैमसन को टीम में जगह नहीं मिल सकी है। 2015 में टीम इंडिया के लिए डेब्यू कर चुके इस विकेटकीपर बल्लेबाज द्वारा पिछले कुछ समय से अपने बल्लेबाजी में काफी चेंजमेंट किए गए हैं।

टीम के लिए बतौर मैच विनर बनकर उभरे संजू सैमसन द्वारा कई मौकों पर टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई गई है। लेकिन टीम इंडिया में इसके बावजूद आज तक उनकी जगह फाइनल नहीं हो सकी है। अपनी दमदार बल्लेबाजी से वह यह साबित कर चुके हैं, कि विरोधी टीम के लिए संजू किसी बड़े खतरे से कम नहीं है।

जिंबाब्वे दौरे पर इस खिलाड़ी द्वारा टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई गई। दूसरे वनडे मैच के दौरान उनके द्वारा 43 रन बनाए गए। बल्लेबाजी के अतिरिक्त असम के इस विकेटकीपर की विकेटकीपिंग स्किल भी बेहद लाजवाब है।

Read Also:-BCCI ने नहीं दी श्रीसंत को टीम इंडिया में जगह, तो संन्यास लेकर अब इस विदेशी टीम के लिए खेलते आयेंगे एस श्रीसंत