AARON FINCH PRESS

ICC टी20 विश्व कप 2022 के 19वें मैच (AUS vs SL) में ऑस्ट्रेलिया ने श्रीलंका को 7 विकेट से हरा दिया। ऑस्ट्रेलिया की इस टूर्नामेंट में यह पहली जीत है। उसकी इस जीत में मार्कस स्टोयनिस की अहम भूमिका रही। 

मार्कस स्टोइनिस ने 4 चौके और 6 छक्के की मदद से 18 गेंद में नाबाद 59 रन बनाए। उन्होंने 17 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया। वह टी20 विश्व कप में दूसरा सबसे तेज अर्धशतक लगाने वाले बल्लेबाज बने।

मैक्सवेल और फिंच का अहम योगदान

मार्कस स्टोयनिस के अलावा ऑस्ट्रेलिया की ओर से ग्लेन मैक्सवेल ने भी तूफानी पारी खेली। उन्होंने 12 गेंद में 23 रन बनाए। डेविड वार्नर 10 गेंद में 11 रन बनाकर आउट हुए। कप्तान एरोन फिंच 42 गेंद में 31 रन बनाकर नाबाद रहे। मिशेल मार्श ने 17 गेंद में 17 रन बनाए। 

श्रीलंका की ओर वानिंदु हसरंगा सबसे महंगे साबित हुए। उन्होंने 3 ओवर में 53 रन लुटाए। श्रीलंका ने 20 ओवर में 6 विकेट पर 157 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया ने 16.3 ओवर में 3 विकेट पर 158 रन बनाकर मैच अपने नाम कर लिया।

आरोन फिंच ने करी स्टोयनिस की तारीफ

मैच जीतने के बाद ऑस्ट्रेलिया के कप्तान एरोन फिंच ने कहा,

“बहुत खुश। मेरी पारी असामान्य थी, खराब थी। मैं गेंद को हिट नहीं कर सका। जिस तरह से हमने बल्ले से संपर्क किया वह ठीक था। यह वहाँ एक लंबा रास्ता तय करने जैसा था, अगर हम इससे उबर सकते थे, तो पारी के पिछले छोर को सेट करना महत्वपूर्ण था। अच्छा होता अगर मैंने पहले तेज़ खेला होता। उन्होंने कठिन लेंथ से गेंदबाजी की, यह कठिन था। इतना बड़ा मैदान, खड़े होकर बाउंड्री पर करना कठिन। दो अंक पाकर अच्छा लगा।”

ALSO READ:AUS vs SL: मार्कस स्टोयनिस का खुलासा मैदान पर पहुंचते ही रॉनी ने कह दी ऐसी बात कि मैंने ठोक दिया 17 गेंदों में अर्द्धशतक

मार्कस स्टोयनिस की तारीफ़ करते हुए कप्तान आरोन फिंच ने कहा कि

“उसकी (स्टोयनिस) यह काफी खास पारी थी। उस इरादे से बाहर आना मुख्य बात है। जब आप बल्लेबाजी करने उतरते हैं और क्रीज पर मौजूद होते हैं, तो टी20 क्रिकेट में यह आधी लड़ाई होती है। जब आपको वह कौशल मिले जो उसके पास है, तो यह एक अच्छा कॉम्बो है। (अगला मैच बनाम इंग्लैंड) हमेशा एक महान इवेंट, कोई भी प्रारूप, कहीं भी, इसके लिए तत्पर।”

ALSO READ: AUS vs SL: ऑस्ट्रेलिया से मिली हार के बाद सातवें आसमान पहुंचा कप्तान दासुन शनाका का गुस्सा, सीधे तौर पर इन 3 खिलाड़ियों को माना हार का जिम्मेदार