"रविचंद्रन अश्विन को किसी भी हालत में नहीं दिया जा सकता टी20 विश्व कप के लिए भारतीय टीम में मौका"
"रविचंद्रन अश्विन को किसी भी हालत में नहीं दिया जा सकता टी20 विश्व कप के लिए भारतीय टीम में मौका"

अनुभवी भारतीय फिरकीबाज़ आर अश्विन (R ASHWIN) इन दिनों वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली जाने वाली टी20 सीरीज़ का हिस्सा हैं. उन्होंने पहला मैच खेलते हुए अच्छा परफॉर्म किया था. इस सीरीज़ के लिए अश्विन को काफी लंबे समय बाद टीम में वापस किया गया है. सीमित ओवरों के खेल में अश्विन लंबे वक़्त से टीम से बाहर चल रहे थे.

वेस्टइंडीज के पहले मैच में किया अच्छा

ASHWIN

बता दें, वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए पहले टी20 मैच में अश्विन (R ASHWIN) ने गेंद और बल्ले दोनों से अच्छा परफॉर्म किया. पहले अश्विन ने बल्लेबाज़ी करते हुए 13 रनों की नाबाद पारी खेली, फिर उन्होंने गेंदबाज़ी करते हुए 4 ओवरों में 5.50 की इकॉनमी से रन खर्च करते हुए 22 रन देकर दो विकेट अपने नाम किए. पहले मैच में ऐसी परफॉर्मेंस देखने को बाद इस पूर्व भारतीय दिग्गज को लगता है कि अश्विन इस बार टी20 वर्ल्ड कप का हिस्सा नहीं होंगे.

इस क्रिकेटर ने अश्विन को लेकर की भविष्वाणी

Parthiv Patel

गौरतलब है, अश्विन (R ASHWIN) पिछले साल टी20 वर्ल्ड कप में भारतयी टीम का हिस्सा थे. इसके बाद उन्हें न्यूज़ीलैंड के खिलाफ खेली गई टी20 सीरीज़ में शामिल किया गया था. इसके बाद करीब 8 महीनें उन्हें इंडिया टीम में किसी सीमित ओवरों के खेल के लिए हिस्सा नहीं बनाया गया. लेकिन अचानक से उन्हें वेस्टइंडीज दौरे में टीम में शामिल किया गया और उन्हें पहले मैच में टीम के लिए अच्छा परफॉर्म किया.

वहीं, पूर्व भारतीय क्रिकेट पार्थिव पटेल ने क्रिकबज़ से अश्विन के बारे में बात करते हुए कहा

, “अगले मैच में बिश्नोई को अश्विन से आगे खेलते हुए देखता हूं (यदि भारत दो स्पिनरों के साथ जाने का फैसला करता है). मैं ईमानदारी से कहूं तो अश्विन को टी20 विश्व कप खेलते हुए नहीं देखता. मुझे कुलदीप यादव, बिश्नोई और (युजवेंद्र) चहल में विविधता चाहिए. कलाई के स्पिनर बीच-बीच में अटैकिंग ऑप्शन देते हैं. अश्विन आपको वह नहीं दे पाते हैं.”

ALSO READ: IND vs ZIM: शिखर धवन की कप्तानी में खुली इस खिलाड़ी की किस्मत, विराट कोहली और रोहित शर्मा करते रहे हैं नजरअंदाज

उन्होंने आगे बात करते हुए कहा,

“भारत में भी आप तीन स्पिनरों को टी20 या वनडे मैच में खेलते हुए नहीं देखते हैं. सामरिक रूप से इस पूरे दौरे में भारत का प्रदर्शन शानदार रहा है. रोहित ने सुनिश्चित किया कि स्पिनर अलग-अलग समय पर गेंदबाजी करें. हमने देखा कि रवि बिश्नोई ने डेथ ओवर्स में ओवर फेंकने आए. अश्विन और जडेजा ने पहले छह ओवरों में गेंदबाजी की. आमतौर पर हम अश्विन को नई गेंद से गेंदबाजी करते हुए देखते हैं, लेकिन जडेजा को नहीं. हमने जडेजा को दाएं हाथ के दो बल्लेबाजों के कारण गेंदबाजी करते देखा.”

ALSO READ: अक्षर पटेल vs जडेजा vs पांड्या : पटेल ने खेले हैं 40 वनडे मैच, देखें शुरूआती 40 मैचों में किसने बनाए सबसे ज्यादा रन-विकेट