“दूसरे छोर पर दिनेश कार्तिक थे अगर मैं होता तो…” Hardik Pandya की हरकत पर बुरी तरह भड़के आशीष नेहरा!
“दूसरे छोर पर दिनेश कार्तिक थे अगर मैं होता तो…” Hardik Pandya की हरकत पर बुरी तरह भड़के आशीष नेहरा!

भारतीय क्रिकेट टीम और दक्षिण अफ्रीका टीम के बीच मैच में ऑल राउंडर खिलाड़ी हार्दिक पांड्या ने लगभग छ महीने के बाद टीम में वापसी की है। हालांकि ऑल राउंडर खिलाड़ी की वापसी आईपीएल में उनकी फॉर्म को देखकर एक सकारात्मक दृष्टिकोण से देखी जा रही है। लेकिन वापसी के बाद पहले ही मैच में हार्दिक पांड्या का अंतिम गेंद पर खुद स्ट्राइक लेने का तरीका उनकी आलोचना का कारण बन गया हैं।

कई लोगों को खिलाड़ी का दिनेश कार्तिक का स्ट्राइक न देना पसंद नहीं आया है। जिसपर पर सबसे पहले उनकी आईपीएल टीम के कोच आशीष नेहरा ने ही उन्हें आइना दिखाया हैं। जानिए क्या है पूरी बात….

हार्दिक पांड्या को लेना चाहिए था सिंगल अगले छोर पर मैं नहीं था

HARDIK PANDYA AND DINESH KARTHIK

भारतीय क्रिकेट टीम में हार्दिक पांड्या ने लगभग छ महीने बाद और दिनेश कार्तिक ने तीन साल के लंबे समय के बाद वापसी की थी। लेकिन क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट में दोनों खिलाड़ियों को अपनी क्षमता दिखाने का पूरा मौका नहीं मिला। जिसपर हार्दिक पांड्या को कुछ गेंद बल्लबाजी मिली जिसके बाद उन्होंने फिनिशिंग भी उन्होंने ही की।

मैच की पहली पारी पर दो गेंद रहने पर हार्दिक पांड्या स्ट्राइक पर थे। लेकिन उन्हीनें सिंगल नहीं लिया। जिसपर कॉमेट्री बॉक्स से भी इस पर नाराजगी जाहिर की है। तो उनके आईपीएल टीम के कोच आशीष नेहरा ने भी कहा है कि अगले छोर पर मैं नहीं था। दिनेश कार्तिक को मौका देना चाहिए था। लेकिन हार्दिक पांड्या ने स्ट्राइक अपने पास रखी, जिसके बाद अंतिम गेंद पर मात्र दो रन लिए।

Also Read : IND vs SA: प्लेयर ऑफ द मैच लेते हुए डेविड मिलर ने कोच और कप्तान दोनों को नजरअंदाज कर इन्हें दिया इस जीत का श्रेय

आशीष नेहरा ने हार्दिक पांड्या पर टीम गेम में की इस स्ट्राइक न बदलने की गलती पर तंज कसते हुए कहा कि

“हार्दिक को अंतिम गेंद से पहले सिंगल लेना चाहिए था। दूसरे छोर पर दिनेश कार्तिक मौजूद थे मैं नहीं। हार्दिक पांड्या ऐसे खिलाड़ी हैं जो हर तरह की भूमिका को निभा सकते हैं। उन्होंने अबतक हर तरह की बल्लेबाजी भी की है। हम सभी ने उन्हें टेस्ट और वनडे में भी अच्छा प्रदर्शन करते देखा है। अपनी बल्लेबाजी क्षमता से वो शायद टीम में किसी भी स्थान पर बल्लेबाजी कर सकने में सक्षम हैं। चाहे वह नंबर 3 या 4 हो। आईपीएल में गुजरात टाइटंस टीम के कप्तान थे तब उन्होंने गेंद से भी योगदान दिया। जोकि एक अलग भूमिका रही थी। आईपीएल से पहले वो ज्यादा गेंदबाजी नहीं कर रहे थे और साथ ही निचले क्रम में बल्लेबाजी कर रहे थे। लेकिन अब वो पुरानी भूमिका में वापस आ गए है”।

हार्दिक ने खेली थी तूफानी पारी

Hardik Pandya को नजरअंदाज कर इस खिलाड़ी को साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहले मैच में मौका देंगे कप्तान केएल राहुल

हार्दिक पांड्या ने 12 गेंदों पर 31 रन की पारी खेली है। जिसमें उन्होंने 258 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं। इस पारी में दो चौके और तीन छक्के शमिल हैं। वहीं दिनेश कार्तिक को दो गेंद ही खेलने का अवसर मिला।

Also Read : IND vs SA: साउथ अफ्रीका की जीत के बाद कप्तान टेंबा बावुमा ने इन खिलाड़ियों को दिया जीत का श्रेय, भारत के लिए किया कुछ ऐसा जीता 130 करोड़ भारतीयों का दिल