टी20 विश्व कप 2022 से ठीक पहले इस दिग्गज खिलाड़ी ने लिया संन्यास, वर्ल्ड कप जीतने में निभा सकता था महत्वपूर्ण भूमिका
टी20 विश्व कप 2022 से ठीक पहले इस दिग्गज खिलाड़ी ने लिया संन्यास, वर्ल्ड कप जीतने में निभा सकता था महत्वपूर्ण भूमिका

Aaron Finch Retirement : ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के सीमित प्रारूप के कप्तान एरोन फिंच (Aaron Finch) ने वन डे क्रिकेट से अपने संन्यास के ऐलान कर दिया है। ऑस्ट्रेलिया लिमिटेड ओवर के कप्तान एरोन फिंच अब न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले सीरीज के आखिरी वन डे मैच के जोकि 11 सितंबर को खेला जाएगा। इस मैच में आखिरी बार ऑस्ट्रेलिया की अगुवाई करते नजर आएंगे।

एरोन फिंच अपनी काफी बुरी फॉर्म से जूझ रहे हैं, लेकिन आगामी टी20 विश्व कप 2022 में वो ऑस्ट्रेलिया की तरफ से अगुवाई करते हुए नजर आयेंगे।

एरोन फिंच 146 और अंतिम वनडे खेलने के लिए उतरेंगे

ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज और विस्फोटक खिलाड़ियों की लिस्ट में पहचाना रखने वाले एरोन फिंच इस रविवार को ऑस्ट्रेलिया बनाम न्यूजीलैंड मैच में काजलिस स्टेडियम में अपने वनडे करियर का अपना 146वां और आखिरी वनडे मैच खेलने के लिए उतरेंगे। कप्तान के तौर कर एरोन फिंच का ये 54वा मैच है।

अगर एरोन फिंच के वनडे करियर की बात करें तो उन्होंने अब तक 145 वन डे मैच खेले हैं। जिसमें खिलाड़ी ने 39.14 की औसत से 5401 रन बनाए हैं। वन डे फॉर्मेट में एरोन फिंच ने 17 शतक बनाए है। जोकि ऑस्ट्रेलिया के सबसे सफल कप्तान रिकी पोंटिंग, मार्क वॉ और डेविड वॉर्नर सबसे सेंचुरी जड़ने वाले बल्लेबाज हैं।

रिकी पोंटिंग ने वन डे फॉर्मेट में सबसे ज्यादा 29 बार 100 का आंकड़ा छुआ है। साथ ही डेविड वॉर्नर और मार्क वॉ 18-18 शतक के साथ एरोन फिंच के ऊपर हैं।

Also Read : SL vs IND: अफगानिस्तान के बाद अब श्रीलंका ने दिखाया भारत पर तुक्का थी पाकिस्तान की जीत, 18 गेंद पहले ही श्रीलंकाइयों ने पाक को 5 विकेट से रौंदा

खेलना चाहते थे 2023 wc लेकिन फॉर्म आई आड़े

एरोन फिंच ऑस्ट्रेलिया के लिए वन डे विश्व कप 2023 खेलना चाहते थे। लेकिन खराब फॉर्म से जूझ रहे एरोन फिंच ने 2023 से पहले ही सन्यास ले लिया है। एरोन फिंच ने शनिवार को जारी किए गए एक बयान में कहा कि अब समय आ गया है कि नए कप्तान अगले वन डे विश्व कप को तैयारी करें। ये जीत के लिए अच्छा मौका है।

एरोन फिंच ने कहा

“यह कुछ अविश्वसनीय यादों के साथ एक शानदार सफर रह है। मैं कुछ शानदार वनडे टीमों का हिस्सा बनने के लिए बेहद भाग्यशाली रहा हूं। समान रूप से, मुझे उन सभी का आशीर्वाद मिला है जिनके साथ मैंने खेला है और कई लोग पर्दे के पीछे हैं। मैं उन सभी का शुक्रिया अदा करता हूं जिन्होंने इस मुकाम तक मेरी यात्रा में मदद और समर्थन किया है।”

Also Read : IND vs AFG: कप्तान बनते ही केएल राहुल ने खेला मास्टरस्ट्रोक रोहित शर्मा की इन 2 गलतियों को सुधार भारत को दिलाई 101 रनों से जीत