3 ऐसे क्रिकेट मैच जब किसी एक नहीं बल्कि टीम के पुरे 11 खिलाड़ियों को चुना गया था मैन ऑफ द मैच
3 ऐसे क्रिकेट मैच जब किसी एक नहीं बल्कि टीम के पुरे 11 खिलाड़ियों को चुना गया था मैन ऑफ द मैच

Cricket के खेल में एक टीम के सामूहिक प्रयास के कारण ही टीम को मैच में जीत मिल पाती है। लेकिन उसमें भी कोई एक खिलाड़ी जो सबसे अच्छा प्रदर्शन करता है, खास बन जाता है। गेंदबाज और बल्लेबाज के बीच चल रहे बराबर के मुकाबलों के दौरान कई बार दोनों के बीच टक्कर के बाद भी किसी मैच का सही परिणाम देखने को मिलता है। इन्हीं कारणों के चलते किसी भी मैच में बेस्ट खेलने वाले खिलाड़ी को मैन ऑफ द मैच से सम्मानित किया जाता है।

हालांकि ऐसे भी उदाहरण मौजूद हैं जब क्रिकेट के दौरान पूरी टीम को ही मैन ऑफ द मैच से सम्मानित किया गया। ऐसी घटना अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के 142 साल लंबे इतिहास में केवल 3 बार ही घटित हुई है। एक बार टेस्ट के दौरान और दो बार वनडे के दौरान। हालांकि यह घटना इसके बारे में सुनने वाले लोगों के लिए अजीब हो सकती है, लेकिन ऐसा हो चुका है जब एक साथ पूरी टीम को मैन ऑफ द मैच से सम्मानित किया गया था।

वेस्टइंडीज- न्यूजीलैंड 1996

कम स्कोर वाला यह एकदिवसीय मुकाबला रहा था, जिसमें न्यूजीलैंड द्वारा 4 रनों से विंडीज को हरा दिया गया। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में इस मैच के बाद पहली बार पूरी टीम को प्लेयर ऑफ द मैच से सम्मानित किया गया। अवार्ड के लिए सभी 11 खिलाड़ियों को चुना गया।

क्रैग स्पीयरमैन द्वारा न्यूजीलैंड के लिए बैटिंग करते हुए सबसे अधिक 41 रन बनाए गए, इस दौरान टीम का कुल स्कोर 158 रन था। गेंदबाजी के दौरान जिस भी खिलाड़ी द्वारा गेंद हाथ में थामी गई, सभी को विकेट मिला। 154 रनों पर विंडीज टीम आउट हो गई, इसके बाद सभी 11 खिलाड़ियों को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

इंग्लैंड – पाकिस्तान, 1996

सितंबर में यह एकदिवसीय मुकाबला खेला गया था, जिसमें पहले खेलते हुए इंग्लैंड द्वारा 246 रन बनाए गए। जवाब में खेलते हुए थोड़ा पाकिस्तान की पारी लड़खड़ाई, लेकिन आखिरी में जीत के शिखर तक पहुंच ही गई। 2 गेंदें शेष रहते ही पाकिस्तान की टीम द्वारा 247 रन बनाकर मैच जीत लिया गया और टीम के सभी 11 खिलाड़ियों को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

ALSO READ: टी20 वर्ल्ड कप 2021 की हार के सवाल पर भड़क गए रोहित शर्मा, कहा- ‘हमने 80 प्रतिशत मैच जीती, वर्ल्ड कप हार गए तो क्या हुआ’

दक्षिण अफ्रीका – वेस्टइंडीज 1999

दक्षिण अफ्रीका की टीम द्वारा इस टेस्ट मैच के दौरान वेस्टइंडीज को 351 रनों के बड़े अंतर से हराया गया था। पहले खेलते हुए दक्षिण अफ्रीका खिलाड़ी द्वारा 313 रन बनाए गए, जवाब में 144 रनों पर वेस्टइंडीज की टीम आउट हो गई। इसके बाद दक्षिण अफ्रीका द्वारा फिर से खेलते हुए 5 विकेट पर 399 रन बनाकर वेस्टइंडीज को 217 रनों पर आउट कर मैच को जीत लिया गया। पहली बार सभी 11 खिलाड़ियों को टेस्ट क्रिकेट में मैन ऑफ द मैच चुना गया।

Read Also:-WI vs IND: 3-0 से सीरीज जीतने के बाद कोच राहुल द्रविड़ को नजरअंदाज कर इस खिलाड़ी को दिया शिखर धवन ने सीरीज जीतने का पूरा श्रेय, कहा मुझे इन पर गर्व है….