3 भारतीय खिलाड़ी जिन्हें टीम इंडिया से रखा गया है दूर
3 भारतीय खिलाड़ी जिन्हें टीम इंडिया से रखा गया है दूर

Indian Team, 2022 में होने वाले महत्वपूर्ण T20 एशिया कप की तैयारियों में जुटी है। मेन इन ब्लू द्वारा पहले ही एक शानदार रोस्टर का खुलासा कर दिया गया, कि वह चैंपियनशिप हासिल करना चाहते हैं। भारत के स्टार हिटर विराट कोहली भी इसमें अपनी वापसी करते हुए बल्ले से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद लगाए हैं।

विराट कोहली के अतिरिक्त टीम प्रबंधन में सूर्यकुमार यादव, दीपक हुड्डा, आवेश खान और अर्शदीप सिंह के नाम शामिल हैं, जिन्होंने भारतीय टीम के सदस्य होने के साथ मेन इन ब्लू के लिए लगातार उत्कृष्ट प्रदर्शन भी किया है। इसके अतिरिक्त कुछ ऐसे भी खिलाड़ी रहे, जिनके द्वारा हाल ही में भारत का प्रतिनिधित्व किया गया, लेकिन उन खिलाड़ियों को राष्ट्रीय टीम से बाहर कर दिया गया है।

इस आर्टिकल के जरिए हम ऐसे तीन खिलाड़ियों के बारे में बात करेंगे, जो भारतीय टीम से अलग रखे गए हैं।

राहुल चाहर

पांच बार की चैंपियन रही मुंबई इंडियंस (MI) के एक प्रसिद्ध सदस्य 23 वर्षीय राहुल चाहर को उच्चतम स्तर पर भारत का प्रतिनिधित्व करने का मौका प्रदान किया गया। 2019 में राहुल वेस्टइंडीज के खिलाफ अपना पदार्पण कर मेन इन ब्लू के लिए अच्छी गेंदबाजी करते नजर आए।

राहुल द्वारा अपना आखिरी T20I खेल नामीबिया के खिलाफ 2021 T20 विश्व कप के दौरान खेला गया था। हालांकि वह संघर्ष करते रहे और बिना विकेट लिए गए। चाहर द्वारा जुलाई 2021 के दौरान श्रीलंका के खिलाफ एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय (ODI) में भारत का प्रतिनिधित्व करते हुए 3 विकेट हासिल किए गए।

इस लेग स्पिनर द्वारा भारत के लिए अच्छा प्रदर्शन किया गया है। देखिए रविंद्र जडेजा, युज़वेंद्र चहल और अक्षर पटेल की मौजूदगी में उनके लिए टीम में बने रहने काफी मुश्किलें खड़ी कर दी हैं। चाहर द्वारा मेन इन ब्लू के लिए 6 मैचों में 7 विकेट लिए गए हैं।

वरुण चक्रवर्ती

राहुल की तरह आईपीएल के दौरान केकेआर के लिए उनके मजबूत प्रदर्शन के बाद वरुण चक्रवर्ती को भारतीय टीम में चुना गया था। 2021 के दौरान इस मिस्ट्री स्पिनर द्वारा श्रीलंका के खिलाफ मेन इन ब्लू के लिए पदार्पण किया गया और अच्छा भी खेला गया था। 2021 में टी20 वर्ल्ड कप के दौरान भी वरुण भारत की टीम में चुने गए थे।

वरुण द्वारा अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच स्कॉटलैंड के खिलाफ टी20 वर्ल्ड कप के दौरान खेला गया था। जब वह विकेट नहीं ले सके थे। भारत के लिए वरुण 6 मैच खेल सके और मात्र 2 विकेट लेने में कामयाब रहे।

हालांकि 5.86 की इकॉनामी रेट से वरुण द्वारा गेंदबाजी की गई। दाएं हाथ का यह स्पिनर घरेलू सर्किट पर कामयाब होने और भारतीय टीम में फिर से प्रवेश करने के लिए किसी भी हद तक जा सकता है।

ALSO READ: Asia Cup 2022: आईसीसी टी20 रैंकिंग में हुई बड़ी उल्टफेर, हार्दिक पंड्या ने लगाई लंबी छलांग, नंबर 5 पर पहुंचे

वेंकटेश अय्यर

वेंकटेश अय्यर द्वारा दो बार के आईपीएल विजेताओं, कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए कुछ शानदार प्रदर्शन करने के बाद, नवंबर 2021 में न्यूजीलैंड के खिलाफ टीम इंडिया के लिए पदार्पण किया गया। सफेद गेंद के दोनों प्रारूपो में भारत का प्रतिनिधित्व करने के बावजूद बाएं हाथ के हिटर वेंकटेश अय्यर भारतीय टीम के सदस्य नहीं हैं।

T20I प्रारूप के दौरान 27 वर्षीय वेंकटेश द्वारा 9 मैचों में भारत का प्रतिनिधित्व किया गया और 133 से अधिक की स्ट्राइक रेट के साथ 33.25 की औसत से 160 रन बनाए गए। 20वें ओवर के प्रारूप में उनके द्वारा पांच विकेट भी लिए गए। उनके द्वारा दो एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेले गए, साथ ही 24 रन भी बनाए गए।

Read Also:-ब्रेकअप के अफवाह के बाद दुबई में डिनर करते स्पॉट हुए शुभमन गिल और सारा, तस्वीरें देख फैंस भी हुए हैरान, देखें