एशिया कप 2022 में भारत को खली इन 3 खिलाड़ियों की कमी, एक बार फिर जल्द बनाया जा सकता है इन्हें टी20 टीम का हिस्सा
एशिया कप 2022 में भारत को खली इन 3 खिलाड़ियों की कमी, एक बार फिर जल्द बनाया जा सकता है इन्हें टी20 टीम का हिस्सा

पिछले कुछ समय से Indian Cricket Team अपने मुख्य खिलाड़ियों की फिटनेस संबंधित समस्याओं से जूझ रही है। जिसके चलते कई खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी में एशिया कप के दौरान कुछ पक्षों में भारतीय टीम कमजोर नजर आ रही है। एशिया कप 2022 में 7 बार की चैंपियन रही भारतीय टीम अब बाहर होने की कगार पर है।

कई चीजों में इस टूर्नामेंट के दौरान कमी नजर आई है, तो वहीं कई विकल्प फ्लॉप भी साबित हुए। ऐसे में भारतीय टीम मैनेजमेंट द्वारा कुछ खिलाड़ियों को टी-20 क्रिकेट में फिर से शामिल करने के बारे में विचार किया जा सकता है। जो काफी समय से टी20 टीम में सीमित और फॉर्मेट के विशेषज्ञ खिलाड़ी होने के बावजूद भी खेलते हुए नजर नहीं आ सके हैं।

इस आर्टिकल के जरिए हम आपको ऐसे तीन खिलाड़ियों के बारे में बताएंगे। जिनकी भारतीय टीम में छोटे प्रारूप के लिए फिर से वापसी हो सकती है।

वाशिंगटन सुंदर

काफी समय से चोट के चलते ऑलराउंडर वाशिंगटन सुंदर भारतीय टीम में अपनी निरंतरता को नहीं रख पाए हैं। 2017 में डेब्यू करने के बाद अब तक सुंदर द्वारा कुल 62 मुकाबले खेले जा चुके हैं, जिसमें उनके द्वारा कुल 25 विकेट चटकाए गए हैं। भारत के लिए उनके द्वारा अपना आखिरी टी-20 मैच मार्च में खेला गया था।

छोटे प्रारूप के स्पेशलिस्ट गेंदबाज माने जाने वाले सुंदर की घरेलू क्रिकेट के दौरान बल्लेबाजी की काबिलियत को सब के द्वारा देखा गया है। अगर ऐसी स्थिति में चोटिल होने के कारण रविंद्र जडेजा टीम से बाहर जाते हैं, तो वाशिंगटन सुंदर को उनके रिप्लेस पर वापसी का मौका दिया जा सकता है। भारत को सुंदर के आने से ऑफ स्पिन का विकल्प भी मिल जाएगा।

ईशान किशन

पिछले कुछ समय के दौरान भारतीय टीम में सलामी बल्लेबाजों के अनावश्यक प्रयोगों के चलते ईशान किशन की फॉर्म और निरंतरता पर विशेष प्रभाव पड़ा है। जिसके चलते एशिया कप में उन्हें शामिल नहीं किया जा सका था। इस साल खेले गए अपने 14 टी-20 मुकाबलों के दौरान किशन 30.71 की औसत से 130.30 की स्ट्राइक रेट से 430 रन बनाने में कामयाब रहे हैं। जिसमें 3 अर्धशतक भी मौजूद हैं।

ओपनिंग के साथ-साथ विकेटकीपिंग का भी हुनर रखने वाले ईशान किशन केएल राहुल और ऋषभ पंत दोनों का एक सही विकल्प साबित हो सकते हैं। क्योंकि इन दोनों ही खिलाड़ियों द्वारा अच्छा प्रदर्शन नहीं किया जा सका है। जिसके चलते एक बार फिर ईशान किशन की तरफ चयनकर्ता अपना रुख कर सकते हैं।

READ ALSO: Asia Cup 2022 में इन 3 भारतीय खिलाड़ियों का सही से नहीं हुआ इस्तेमाल नहीं तो भारत का फाइनल में पहुंचना होता तय!

मोहम्मद शमी

टी20 टीम में भारतीय टेस्ट और वनडे टीम के प्रमुख तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी अब तक अपनी जगह पक्की करने में नाकाम साबित हुए हैं। 2014 में टी20 डेब्यू करने वाले मोहम्मद शमी द्वारा अब तक कुल 17 मुकाबले खेले जा चुके हैं। जबकि आईपीएल के दौरान टीमों के प्रमुख तेज गेंदबाज के रूप में उनके द्वारा जबरदस्त गेंदबाजी भी की जाती है।

भारत के कई तेज गेंदबाजों को चोटिल होने के चलते मौका नहीं मिल सका है। मौके का फायदा उठाने में वह प्रभावशाली भी साबित नहीं हो सके हैं। आईपीएल 2022 में शमीं द्वारा गुजरात टाइटंस को चैंपियन बनाने में अपना अहम योगदान निभाया गया था। और अपने नाम 20 विकेट भी किए जा सके थे।

नई गेंद से भारत विकेट लेने में नाकाम रहता है, लेकिन शमी से बेहतर इस काम को करने के लिए कोई विकल्प हो ही नहीं सकता है। ऐसे में दाएं हाथ के इस तेज गेंदबाज को जल्द ही टीम में शामिल किया जा सकता है।

Read Also:-टी20 वर्ल्ड कप चयन से पहले जसप्रीत बुमराह की फिटनेस पर आया अपडेट, जानिए क्या विश्व कप में होंगे टीम इंडिया का हिस्सा या अभी भी हैं अनफिट