लालू की हालत में नहीं हो रहा सुधार, बच्चों ने की रिहाई की मांग

LALU PRASAD YADAV HEALTH

चारा घोटाले मामले में दोषी पाए जाने वाले लालू प्रसाद यादव की मुसीबतें कम नहीं हो पा रही है। धीरे-धीरे उनकी दिक्कतें बढ़ती जा रही हैं। उनकी हालत में कोई सुधार देखनो को नहीं मिल रहा है। सूत्रों से जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक लालू प्रसाद यादव को सांस लेने में अभी भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। रांची के रिम्स अस्पताल से दिल्ली के एम्स में शिफ्ट हुए लालू प्रसाद को कई बीमारियों के संक्रमण का सामना करना पड़ रहा है।

निमोनिया ठीक होने का डॉ. को इंतजार

LALU PRASAD YADAV

डाक्टरों के अनुसार प्राथमिकता लालू के फेफड़ों के संक्रमण को ठीक करना है। डॉक्टरों की टीम चाहती है कि लालू का निमोनिया पहले ठीक हो जाए, क्योंकि लालू प्रसाद यादव पहले भी बाईपास सर्जरी करा चुके हैं। डॉक्टरों को इस बात की आशंका है कि फेफड़ों पर लंबे वक्त तक संक्रमण रहने से इसका असर लालू प्रसाद यादव के हार्ट पर भी पड़ सकता है।

आपको बता दें कि लालू प्रसाद यादव की किडनी पहले से ही खराब है और वो महज 25 फ़ीसदी काम कर रही है। लालू प्रसाद यादव कई अन्य बीमारियों से ग्रसित हैं, ऐसे में डॉक्टरों की टीम लगातार उनके स्वास्थ्य पर फिलहाल नजर बनाए हुए हैं।

लालू के रिहाई की मांग शुरु

LALU PRASAD YADAV

लालू प्रसाद यादव की हालत को देखते हुए बेटी रोहिणी आचार्य ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से लालू यादव की रिहाई की मांग की है। इससके लिए रोहिणी ने उन्हें खत लिखा है। रोहिणी ने अपने ट्विटर हैंडल से खत के सिंबल के साथ ट्वीट किया है कि ‘देश के महामहिम राष्ट्रपति को एक पत्र आजादी पत्र गरीबों के भगवान आदरणीय श्री लालू प्रसाद यादव जी के लिए।’

 

इस मुहिम से जुड़ें और अपने नेता की आजादी के लिए अपील करें। जिसने हमें ताकत दी, आज वक्त उनकी ताकत बनने का।

 

 

हम और आप बड़े साहब की ताकत हैं।’ उनके साथ बेटे तेज प्रताप ने भी आजादी पत्र जारी कर दिया है। अब देखना ये है कि लालू की रिहाई को हरी झंडी मिलती है या नहीं।