बिहार के इन शहरों में चलेंगी इलेक्ट्रिक बसें, प्रदेश को मिलेगा प्रदुषण से मुक्ति

BIHAR ELECTRIC BUS

मुजफ्फरपुर पथ परिवहन निगम के प्रशासक ने लगातार बढ़ रहे प्रदूषण को ध्यान में रखते हुए अगले महीने फरवरी से राजधानी समेत बिहार शरीफ, मुजफ्फरपुर में इलेक्ट्रिक बसें चलाने का ऐलान किया है। इन बसों को चलाने के लिए सभी रूट भी तय कर लिए गए हैं। यह बसें पूरे दिन शहर में चलाई जाएंगी और बाद में इन्हें चार्ज किया जाएगा। बता दें, यह बस जब एक बार चार्ज की जाती है, तो पूरे 6 घंटे तक चलती है।

BIHAR ELECTRIC BUS

इलेक्ट्रिक बसों के बाद चलेंगी सी एन जी बसें

बिहार पथ परिवहन निगम टाटा लीलैंड के द्वारा इन बसों की खरीदारी की जाएगी। शुरुआत में मुज़फ़्फ़रपुर बिहार शरीफ में दो दो बसें चलाई जाएंगी और पटना में 21 बसें चलेंगी। मुजफ्फरपुर पथ परिवहन निगम के प्रशासक श्याम किशाेर ने जानकारी देते हुए कहा है कि,

“इलेक्ट्रिक बसों का परिचालन शुरू होते ही सी एन जी बसों का भी परिचालन किए जाने की तैयारी की जा रही है”।

इस तरह प्रदूषण को नियंत्रित करने का उद्देश्य भी काफी हद तक सफल रहेगा।

जानकारी के लिये बता दें, यह बसें जेपी सेतु से हाजीपुर से लेकर पटना तक चलेगी। जिन से मुजफ्फरपुर के अलावा उत्तर बिहार के कई दिनों के लोगों को भी यात्रा में आसानी रहेग। सरकार के द्वारा वोल्वो बसें भी खरीदे जाने की योजना बनाई जा रही है। पथ परिवहन निगम के द्वारा लखनऊ दिल्ली बनारस व भूटान बॉर्डर के जय गांव तक तुरंत बसों का परिचालन किया जाएगा।

BIHAR ELECTRIC BUS

काठमांडू और जनकपुरी की बसों का होगा परिचालन

कोरोना संक्रमण के कारण सरकार के द्वारा दिये गये आदेश पर पूरे देश भर में लॉकडाउन हो गया था। लॉकडाउन हो जाने के बाद काठमांडू और जनकपुरी की बसों का भी परिचालन बंद हो गया था। इन बसों को दोबारा परिचालन करने और बॉर्डर खुलने पर बसों को शुरू करने के लिए नेपाल सरकार से बातचीत की जा रही है। सरकारों की बातचीत पूरी होते ही इन बसों को भी शुरू कर दिया जाएगा।

मै प्रतिज्ञा श्रीवास्तव बतौर लेखक TREND BIHAR में कार्यरत हूँ, आप तक खबरें पहुँचाने से पहले मै उसे पूरी तरह से प्रमाणित करती हूँ, फिर सही जानकारी के साथ आप तक पहुंचाती हूँ. अपने सुझाव हमें आप कमेंट के जरिये बता सकते हैं.