बिहार: जेडीयू नेता ने लालू प्रसाद यादव के बेटे से क्यों कहा, ‘ओ पता नहीं जी कौन सा नशा करता है’

tej pratap yadav

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने साल 2015 में आरजेडी के साथ मिलकर महागठबंधन के साथ चुनाव लड़ा था, लेकिन बाद में उन्होंने इस गठबंधन को समाप्त कर दिया और अपनी राह अलग चुन ली। राजद लालू यादव के बेटे तथा उनकी पार्टी के अन्य नेता इस महागठबंधन के खत्म हो जाने के बाद से अब ज्यादातर नीतीश कुमार के लिए आए दिन अपने बयानों और सोशल मीडिया के माध्यम से निशाना साधते हैं।

लालू यादव के दोनों बेटों को ज्यादातर नीतीश के लिए ‘पलटूराम’ शब्द का इस्तेमाल करते हुए देखा गया है। इस तरह के अनाप-शनाप शब्दों को लेकर अब बिहार में कड़ी कार्यवाही करने का फैसला लिया गया है।

tej pratap yadav

तेज प्रताप यादव ने नीतीश सरकार पर हमला बोला

लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने हाल ही में सोशल मीडिया के जरिए नीतीश सरकार पर हमला बोला। दरअसल किसी भी मंत्री, सांसद, अधिकारी, सरकारी कर्मचारी या विधायक को लेकर सोशल मीडिया के माध्यम से कोई भी बयानबाजी या फिर टिप्पणी करने वाले पर उचित कार्यवाही किए जाने का फरमान जारी किया गया है।

यह भी पढ़े: 23 जनवरी से मौसम रहेगा साफ़, बिहार में कुछ जगहों पर हो सकती है बारिश

अब इस मामले को लेकर उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि, ” क्या पलटूराम को पलटूराम कहना भी अब अपराधी की श्रेणी में ही आएगा”? आरजेडी विधायक तेज प्रताप यादव के इस ट्वीट को लेकर अब काफी ज्यादा बवाल हो रहा है।

jdu

पता नहीं जी कौन सा नशा करता है : जेडीयू नेता

हसनपुर से आरजेडी विधायक और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव के इस भड़का देने वाले ट्वीट को लेकर अब विधानसभा चुनाव में मधेपुरा के जेडीयू उम्मीदवार रह चुके नेता निखिल मंडल ने उन्हें अपने अंदाज में जवाब दिया है।

उन्होंने तेज प्रताप यादव के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए जवाब में लिखा- ओ पता नहीं जी कौन सा नशा करता है? इन दिनों वायरल हो रहे इस मशहूर गाने की प्रसिद्ध लाइनों में जवाब देते हुए जेडीयू के नेता का ये ट्विट भी सोशल मीडिया पर काफी ज्यादा वायरल हो गया है।

 

 

तेजस्वी यादव ने दी सीएम नीतीश कुमार को चुनौती

इस मामले को लेकर अब तेजस्वी यादव ने भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा है। उन्होंने नीतीश सरकार को चुनौती देते हुए कहा कि,

“संविधान की तरफ से हर किसी को अभिव्यक्ति की आजादी है। डबल इंजन की सरकार आने से लोकतंत्र और संविधान खतरे में आ चुका है। अगर हिम्मत है तो मुझे गिरफ्तार करके दिखाएं”।

यह भी पढ़े: लालू प्रसाद यादव की बिगड़ती तबीयत देख छलके राबड़ी देवी के आंसू, तेजस्वी यादव बोले- तकलीफ में हैं पिता….